1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. मेरा पैसा
  5. बाढ़ में डूब गई है अगर आपकी कार, तो जानिए कैसे मिलेगा मोटर इंश्योरेंस का फायदा

बाढ़ में डूब गई है अगर आपकी कार, तो जानिए कैसे मिलेगा मोटर इंश्योरेंस का फायदा

बाढ़ की स्थिति में गाड़ी के खराब होने पर आप इंजन प्रोटेक्टर एड-ऑन इंश्योरेंस ले सकते हैं। इस तरह के इंश्योरंस से फायदा ये होता है कि बाढ़ आने पर गाड़ी को जो भी नुकसान होता है उससे बच सकते हैं

Sarabjeet Kaur Sarabjeet Kaur
Published on: October 01, 2019 18:42 IST
If your car is drowned in flood, then know how you will get the benefit of motor insurance- India TV Paisa

If your car is drowned in flood, then know how you will get the benefit of motor insurance

नई दिल्‍ली। पिछले कुछ महीनों से भारत के कई राज्यों में बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। ऐसे में वाहन मालिकों के लिए ये समय काफी परेशानी भरा हो सकता है। बहुत से लोगों को यह नहीं पता है कि बाढ़ में उनके वाहन को क्षति पहुचंने पर उनका मोटर इंश्‍योरेंस उनकी कैसे मदद करेगा। अधिकांश इंशयोरेंस कंपनियां प्राकृतिक विपत्ति में होने वाले नुकसान की भरपाई नहीं करती हैं। तो आज हम आपको यहां बताने जा रहे हैं कि कैसे और कौनसा कार इंश्योरेंस आपको इस मुश्किल घड़ी से बाहर निकलने में मदद कर सकता है।

बाढ़ की स्थिति में गाड़ी के खराब होने पर आप इंजन प्रोटेक्टर एड-ऑन इंश्योरेंस ले सकते हैं। इस तरह के इंश्योरंस से फायदा ये होता है कि बाढ़ आने पर गाड़ी को जो भी नुकसान होता है उससे बच सकते हैं और नुकसान के लिए इंश्‍योरेंज कंपनी पर क्षतिपूर्ति के लिए दावा कर  सकते हैं।

क्या होता है इंजन प्रोटेक्टर एड-ऑन इंश्योरेंस:

  • इंजन में पानी से जुड़े मूलभूत नुकसान को कवर करता है
  • मरम्मत के जुड़े खर्च का इंश्योरेंस करता है
  • एड-ऑन इंश्योरेंस से दुर्घटना के अलावा किसी भी तरह का गाड़ी में हुए नुकसान के लिए इंश्योरेंस क्लेम किया जा सकता है
  • इलेक्ट्रॉनिक सर्किट को इंश्योरेंस से प्रोटेक्शन देता है
  • ऑटो पार्ट्स से जुड़े किसी भी नुकसान से भी दिलाता है फायदा

दो प्रकार के नुकसान के लिए होते हैं मोटर इंश्योरेंस कवर:

  • इंजन डैमेज और गाड़ी के मोटर पार्ट्स का डैमेज कवर
  • पानी से प्रभावित गाड़ी का इंजन पूरी तरह खराब होता है तो कुल खर्च 1 से 2 लाख रुपए तक का होगा। उसी तरह मोटर पार्ट्स को ठीक कराने के लिए शायद उससे कई ज्यादा पैसे लग सकते हैं। एड ऑन इंश्योरेंस आपको इंजन के खराब होने से लेकर मोटर पार्ट्स तक के खराब होने के पस्थिति में सभी तरह के नुकसान को कवर करने में मदद करता है।

एड-ऑन इंश्योरेंस के फायदे:

  • जीरो डेपरिसिएशन: गाड़ी का किसी भी तरह का नुकसान होने पर पूरे पैसे बिना किसी डेपरिसिएशन के क्लेम कर सकते हैं।
  • इंजन प्रोटेक्टर और इलेक्ट्रॉनिक सर्किट कवर: बारिश के समय में गाड़ी चलाना या पार्क करने से भी गाड़ी के इंजन को भारी नुकसान हो सकता है। ऐसे में इंजन प्रोटेक्टर सर्विस इंश्योरेंस की मदद से बारिश से हुए नुकसान का फायदा मिलता है। खासकर बाढ़ प्रभावित जगहों में ज्यादा काम आता है ये इंश्योरेंस।

क्विक रोड साइड असिस्टेंस:

  • बाढ़ से प्रभावित जगहों पर अक्सर गाड़ी चलाते हुए अचानक से गाड़ी के टायर का खराब होना या इंजन का डैमेज होना एक बहुत ही डरावना अनुभव साबित होता है। ऐसी स्तिथि में क्विक रोड साइड असिस्टेंस कवर आपको बहुत सारे सर्विस, जैसे कि-ऑन रोड डैमेज में रिपेयरिंग की सुविधा प्रदान करता है।
  • साथ ही आपके डैमेज हुए टायर को जल्द करीबी गैराज में बदलने की सुविधा भी देता है।

ध्यान में रखें कुछ खास बातें:

  • हमेशा बारिश वाले जगह पर पहले या दूसरे गेयर में ही गाड़ी चलाएं
  • बिना क्लच का इस्तेमाल किए इंजन का रिवॉल्यूशन पर मिनट (आरपिएम) को बढ़ाएं
  • अगर बारिश में गाड़ी फस जाती है तो कभी भी इंजन को स्टार्ट नहीं करें
  • बैटरी को जितनी जल्दी हो सके डिस्कनेक्ट करें
  • अगर बारिश का पानी गाड़ी के अंदर चला जाता है तो कभी भी इग्निशन को बंद नहीं करें। ऐसा करने से इलेक्ट्रिकल सिस्टम में शॉर्ट सर्किट हो सकता है, जिसके वजह से आपको और गाड़ी दोनों को ही नुकसान हो सकता है।
  • हमेशा बाढ़ वाले इलाके को खाली करने से पहले अपने कार के ब्रेक को चेक करें।
  • हो सके तो लोहे का कोई भारी इक्विप्मेंट या हथौड़े जैसी चीज अपने पास रखें, ताकि जरूरत पड़ने पर या गाड़ी के लॉक हो जाने पर शीशों को तोड़ा जा सके।
Write a comment
bigg-boss-13