1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. अनचाहे कॉल पर लगाम कसने के लिए होगा ब्लॉकचेन टेक्‍नोलॉजी का इस्‍तेमाल

अनचाहे कॉल और SMS पर लगाम कसने के लिए होगा ब्लॉकचेन टेक्‍नोलॉजी का इस्‍तेमाल, TRAI ने जारी किए मसौदा नियम

दूरसंचार नियामक ट्राई (TRAI) ने अवांछित फोन कॉल और एसएमएस पर लगाम लगाने के लिए नियमों का नया मसौदा मंगलवार को जारी किया है जिसमें उसने ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल का प्रस्ताव किया गया है।

Manish Mishra Manish Mishra
Updated on: May 29, 2018 18:17 IST
TRAI notifies draft rules to help consumers block unwanted calls and pesky messages- India TV Paisa

TRAI notifies draft rules to help consumers block unwanted calls and pesky messages

नई दिल्ली। दूरसंचार नियामक ट्राई (TRAI) ने अवांछित फोन कॉल और एसएमएस पर लगाम लगाने के लिए नियमों का नया मसौदा मंगलवार को जारी किया है जिसमें उसने ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल का प्रस्ताव किया गया है। नियामक ब्लॉकचैन प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल के जरिए यह सुनिश्चित करना चाहता है कि टेलीमार्केटिंग वालों के फोन या एसएमएस केवल उन्हीं को मिले जिन्होंने इसके लिए अपना नंबर दिया हो। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकार (TRAI) के चेयरमैन आर एस शर्मा ने यह जानकारी दी।

शर्मा ने कहा कि ब्लॉकचेन से दो बातें सुनिश्चित होंगी कि केवल अधिकृत लोगों को ही ग्राहकों का ब्यौरा मिले और तभी मिले जब उन्हें सेवा देने की जरूरत हो। इस तरह का नियम लाने वाला ट्राई पहला संगठन होगा। दूरसंचार वाणिज्यिक संचार ग्राहक वरीयता नियमन 2018 के मसौदे पर 11 जून तक टीका टिप्पणी की जा सकती है।

नई प्रौद्योगिकी आधारित इन नियमों के तहत ग्राहकों व इकाई के बीच सभी संवाद रिकार्ड होगा। ग्राहक की रजामंदी ली जाएगी और टेलीमार्केटिंग कंपनियों को अधिकृत किया जाएगा।

ट्राई के सचिव एस के गुप्ता ने कहा कि देखा गया है कि अनेक टेलीमार्केटिंग कंपनियां ग्राहकों का ब्यौरा पाने के लिए दूरसंचार कंपिनयों के यहां पंजीकरण करवा लेती हैं। नई प्रणाली के तहत अधिकृत एजेंसियों को तभी पहुंच दी जाएगी जबकि वे सेवा की आपूर्ति कर रही होंगी। उन्हें केवल उन्हीं ग्राहकों का ब्यौरा दिया जाएगा जिन्होंने इसको लेकर सहमति जताई हो।

Write a comment