1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. इस कंपनी ने खोजा सिगरेट छुड़ाने का अनोखा तरीका, स्‍मोकिंग न करने वाले कर्मचारियों को मिलेगी अधिक छुट्टी

इस कंपनी ने खोजा सिगरेट छुड़ाने का अनोखा तरीका, स्‍मोकिंग न करने वाले कर्मचारियों को मिलेगी अधिक छुट्टी

टोक्‍यो स्थित पिआला इंक ने पिछले महीने अपने सिगरेट न पीने वाले कर्मचारियों को प्रति वर्ष अतिरिक्‍त 6 दिन की पेड-लीव देने का फैसला किया है।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Published on: November 01, 2017 18:19 IST
इस कंपनी ने खोजा सिगरेट छुड़ाने का अनोखा तरीका, स्‍मोकिंग न करने वाले कर्मचारियों को मिलेगी अधिक छुट्टी- India TV Paisa
इस कंपनी ने खोजा सिगरेट छुड़ाने का अनोखा तरीका, स्‍मोकिंग न करने वाले कर्मचारियों को मिलेगी अधिक छुट्टी

जापान की एक मार्केटिंग कंपनी अपने कर्मचारियों को सिगरेट से दूर रहने का एक बहुत ही आकर्षक कारण दे रही है। टोक्‍यो स्थित पिआला इंक ने पिछले महीने अपने नॉन-स्‍मोकिंग कर्मचारियों को प्रति वर्ष अतिरिक्‍त 6 दिन की पेड-लीव देने का फैसला किया है। इसके पीछे वजह यह है कि कंपनी सिगरेट पीने वाले ऐसे कर्मचारियों के समान ही सिगरेट न पीने वाले कर्मचारियों को समय उपलब्‍ध कराना चाहती है, जो प्रति दिन सिगरेट पीने के लिए अपने काम को छोड़कर बाहर जाता है।

कंपनी ने बताया कि स्‍मोकिंग करने वाले कर्मचारी उन कर्मचारियों की तुलना में ज्यादा सीट से उठते हैं, जो स्‍मोकिंग नहीं करते। इससे कंपनी को तो नुकसान होता ही है साथ में दूसरे कर्मचारियों को यह लगता है कि वो स्‍मोकिंग करने वाले कर्मचारियों के मुकाबले ज्यादा काम कर रहे हैं और कंपनी को ज्यादा समय दे रहे हैं।

जापान टाइम्‍स के मुताबिक पिआला इंक के सीईओ तकाओ असूका ने बताया कि उन्‍हें यह विचार उनके ऑफि‍स में लगे कमेंट बॉक्‍स में से किसी कर्मचारी के कमेंट से आया है। असूका ने कहा कि मुझे उम्‍मीद है कि प्रोत्‍साहन के जरिये कर्मचारियों को सिगरेट छोड़ने के प्रेरित किया जा सकता है न कि जुर्माना या दबाव से। एक अन्‍य जापानी कंपनी लॉसन इंक ने हालही में अपने सभी कर्मचारियों को अपने कॉरपोरेट मुख्‍यालय में काम के घंटों के दौरान सिगरेट पीने से प्रतिबंधित कर दिया है। असूका ने इसी कदम के विपरीत अपनी योजना बनाई है।

लंदन के दि टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक पिआला ने जब से यह नई योजना शुरू की है तब से उसके चार कर्मचारी सिगरेट छोड़ चुके हैं। जापान में सिगरेट एक गंभीर समस्‍या है, वॉशिंगटनपोस्‍ट के मुताबिक स्‍मोकिंग रेट में जापान की रैंकिंग सबसे ऊपर है।

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban