1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. अगर गलती से गलत बैंक खाते में ट्रांसफर हो जाएं पैसे, तो वापस पाने के लिए उठाएं ये जरूरी कदम

अगर गलती से गलत बैंक खाते में ट्रांसफर हो जाएं पैसे, तो वापस पाने के लिए उठाएं ये जरूरी कदम

जानिए यदि आपके पैसे किसी गलत खाते में चले जाएं तो क्या कदम उठाने आवश्यक हैं...

Sarabjeet Kaur Sarabjeet Kaur
Updated on: July 30, 2019 15:51 IST
If money is transferred to wrong bank account, then take these necessary steps - India TV Paisa
Photo:IF MONEY IS TRANSFERRED T

If money is transferred to wrong bank account, then take these necessary steps

नई दिल्‍ली। डिजिटल होते भारत में इंटरनेट की मदद से घर बैठे-बैठे देश में कहीं भी पैसा भेजना जितना आसान हो गया है, उतना ही ज्‍यादा जोखिम भी बढ़ गया है। लापरवाही और जल्‍दबाजी की वजह से कई बार हम गलत बैंक खाते में पैसा भेज देते हैं और फ‍िर परेशान होते हैं। आज हम यहां बात कर रहें हैं एक छोटी सी गलती से किसी गलत खाते में पैसे ट्रांसफर हो जाने की स्थिति में क्‍या करें। यदि आप भी ऐसी किसी समस्‍या में फंसे हैं या फंसने से बचना चाहते हैं तो जानिए यदि आपके पैसे किसी गलत खाते में चले जाएं तो क्या कदम उठाने आवश्यक हैं...

1. अपने बैंक को सूचित करें:

जैसे ही आपसे गलत खाते में पैसे ट्रांसफर होते हैं तो सबसे पहले अपने बैंक को इसकी जानकारी दें। बैंक मेनेजर से जाकर मिलें, ई-मेल करें, आप फोन के जरिये भी सूचित कर सकते हैं। लेकिन सबसे अहम है कि आप बैंक को ट्रांजैक्शन की तारीख, खाता नंबर, पैसे भेजने का समय, अमाउंट की जानकारी, बैंक स्टेटमेंट उपलब्‍ध कराएं। आप अपने ऑनलाइन ट्रांजैक्शन का स्‍क्रीन शॉट भी भेज सकते हैं। अगर पैसे एक ही बैंक के अलग खाते में गया है तो वापस आने में आसानी होती है। लेकिन अगर किसी और बैंक के खाते में चला जाए तो आपको ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

2. जल्द उठाएं कदम: 

बैंक से पता करें और धन हासिल करने वाले रिसिवर को तुरंत सूचित करें। अगर आपका और रिसिवर का खाता एक ही बैंक के एक ही ब्रांच में है तो आपके पैसे वापस आ जाएंगे। लेकिन अगर सेंडर और रिसिवर का खाता अलग-अलग बैंक में है तो आपको डिटेल में इस बात की जानकारी बैंक को देनी होगी। रिसिवर को खुद फोन करें। अगर रिसिवर बैंक की बात मानने से इंकार करता है तो आप एफआईआऱ दर्ज करा सकते हैं। देखा गया है कि ज्यादातर केस में रिसिवर पैसे लौटाने से मना कर देता है। एसे में केस करना ही एक मात्र रास्ता बचता है। अगर रिसिवर पैसे देने के लिए मान जाता है तो आपके पैसे एक हफ्ते में आपके खाते में आ जाएंगे। अगर बैंक खाता नंबर मौजूद ही नहीं है तो आपके पैसे आपके अकाउंट में ऑटो क्रेडिट हो जाएंगे। बैंक सिर्फ एक फैसिलेटर की तरह सहयोग कर सकता है।

3. ध्यान में रखें कुछ अहम बातें:

ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर करने से पहले दो बार अकाउंट नंबर जांच लें। हमेशा आईएफएससी (IFSC) कोड को सही टाइप करें। आरबीआई (RBI) के गाइडलाइंस के मुताबिक पूरी जिम्मेदारी पैसे भेजने वाले की होती है। बैंक के लिए ऐसे कोई कड़े नियम नहीं की वो सारी जानकारी जांचकर पैसे ट्रांसफर करे। इसलिए ध्य़ानपूर्वक पैसे ट्रांसफर करें। अगर पहली बार पैसे ट्रांसफर कर रहें हैं तो पहले एक छोटी रकम (100 रुपए) भेज कर देखें। ऑनलाइन पेमेंट में यह टेस्ट फॉर्मूला हमेशा काम आता है। कानूनी कार्रवाई में फंसने से बेहतर है कि आप सावधानी बरतें और गलत खाते में पैसे ट्रांसफर करने से बचें।

4. सावधानी से नंबर टाइप करें:

हमेशा ध्यान में रखें की एक भी नंबर इधर-उधर हुआ और पैसे गलत खातें में गए। इसलिए हमेशा पैसे ट्रांसफर करते समय नंबर टाइप ध्य़ान से करें। अच्छी तरह पहले नंबर को दो बार चेक करें उसके बाद ही टाइप करें। जल्दबाजी में कभी पैसे ट्रांसफर न करें।

Write a comment