1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. फोन में हमेशा डाले 4 अंकों से ज्यादा का पासवर्ड, ऐसे रखें अपने स्मार्टफोन्स को सेफ

फोन में हमेशा डाले 4 अंकों से ज्यादा का पासवर्ड, ऐसे रखें अपने स्मार्टफोन्स को सेफ

हैकर्स अब काफी आसानी से फोन को रिमोट पर लेकर यूजर्स की आंखों में धूल झोक रहा है। आइए जानते हैं उन तरीकों के बारे में जिससे आप अपने स्‍मार्टफोन को सेफ बना सकते हैं। 

Sachin Chaturvedi Sachin Chaturvedi
Published on: May 02, 2018 9:59 IST
Mobile Password- India TV Paisa

Mobile Password

नई दिल्ली। इस समय स्मार्टफोन यूजर्स हैकर्स के निशाने पर आ चुके हैं। मोबाइल फोन्स को हैक करने के लिए हैकर्स नए नए तरीके अपना रहे हैं और स्मार्टफोन यूजर्स की इंफोर्मेशन चुरा रहे हैं। हैकर्स इसके लिए मोबाइल को अनलॉक करके कर रहे हैं। स्मार्टफोन सेंसर में जो डेटा रहता है वह हैकर्स तक उसके पासवर्ड और पिन को पहुंचा रहा है। हैकर्स अब काफी आसानी से फोन को रिमोट पर लेकर यूजर्स की आंखों में धूल झोक रहा है। आइए जानते हैं उन तरीकों के बारे में जिससे आप अपने स्‍मार्टफोन को सेफ बना सकते हैं।

निशाने पर हैं ये सेंसर्स

स्मार्टफोन में जीरोस्कोप और प्रोक्सीमिटी सेंसर्स दिए गए हैं जो सेंधमारी के लिए जिम्मेदार होते हैं। इन सेंसर्स को हैक करके हैकर्स यूजर्स की सारी जानकारी हासिल कर लेते हैं। इस बात का खुलासा भारतीय मूल के एक साइंटिस्ट शिवम भसीन ने किया है जो सिंगापुर की नायंग टेक्नोलॉजी यूनिवर्सिटी से जुड़े हैं। शिवम के मुताबिक मशीन लर्निंग एल्गोरिदम और स्मार्टफोन में लगे सेंसर्स की मदद से शोधकर्ता एंड्रायड स्मार्टफोन्स को 99.5 फीसद एक्यूरेसी के साथ अनलॉक कर सकते हैं।

4 डिजिट पासवर्ड को किया जा सकता है हैक

भसीन के मुताबिक किसी भी एंड्रायड स्मार्टफोन को क्रैक करके की एक्यूरेसी बढ़कर 99.5% तक पहुंच गई है। इसका मतलब हैकर्स आसानी से फोन को हैक कर सकते हैं उसके पिन और पासवर्ड का पता लगाकर उसे अनलॉक कर सकते हैं। NTU की तकनीक के जरिए 10 हजार 4 डिजिट के पिन नंबर्स को गेस किया जा सकता है।

इस तरह से करें बचाव

भसीन के मुताबिक यदि आप हैकर्स के निशाने से बचना चाहते हैं तो अपने फोन में 4 डिजिट से ज्यादा का पासवर्ड या पिन का इस्तेमाल करें। इसके अलावा अपने स्मार्टफोन में एंडवास फीचर्स के होते हुए फेस ID तकनीक का इस्तेमाल करते हुए उसमें पासवर्ड या पिन लगाएं ताकि हैकर्स उसे क्रैक न कर सकें।

Write a comment