1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. वित्त मंत्री के ऐलान से शेयर बाजार गुलजार, सेंसेक्स 700 से ज्यादा अंक चढ़ा, Nifty 11,000 के पार

वित्त मंत्री के ऐलान से शेयर बाजार गुलजार, सेंसेक्स 700 से ज्यादा अंक चढ़ा, Nifty 11,000 के पार

अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा किए गए कई बड़े ऐलान के बाद आज सोमवार को घरेलू शेयर बाजार में बढ़त देखने को मिल रही है।

India TV Business Desk India TV Business Desk
Updated on: August 26, 2019 15:07 IST
Share Market Today- India TV Paisa

Share Market Today

मुंबई। अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा किए गए कई बड़े ऐलान के बाद आज सोमवार को घरेलू शेयर बाजार में बड़ी बढ़त देखने को मिल रही है। शुरुआती कारोबार के दौरान ​घरेलू शेयर बाजार जोरदार उछाल के साथ खुला लेकिन बाद में प्रमुख संवेदी सूचकांकों में उतार-चढ़ाव का दौर जारी रहा। दोपहर तीन बजे के आसपास सेंसेक्स 742.78 अंकों के बढ़ते के साथ 37,443.94 के स्तर पर कारोबार करता दिखा वहीं निफ्टी 212.75 अंकों की तेजी के साथ 11,043.30 के स्तर पर कारोबार करता दिखा। बता दें कि सोमवार को सेंसेक्स 663 अंकों की तेजी के साथ खुला और निफ्टी 171 अंकों की तेजी के साथ 11,000 पर खुला। सुबह 9.54 बजे सेंसेक्स पिछले सत्र से 38.40 अंकों यानी 0.10 फीसदी की तेजी के साथ 36,739.56 पर कारोबार कर रहा था जबकि निफ्टी तकरीबन सपाट 10,828.75 पर कारोबार कर रहा था। 

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह नौ बजे 662.79 अंकों के उछाल के साथ 37,363.95 पर खुला। हालांकि इसके बाद शुरूआती घंटे के कारोबार के दौरान ही सेंसेक्स फिसलकर 36,619.33 पर आ गया। ​नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों वाला प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी भी 170.95 अंकों की तेजी के साथ 11,000.30 पर खुला लेकिन बाद में फिसलकर 10,793.80 पर आ गया। 

बता दें कि बीते सप्ताह वित्त मंत्री ने जहां एफपीआई पर बढ़ाया गया सरचार्ज वापस ले लिया है, वहीं घरेलू निवेशकों को भी एलटीसीजी और एसटीसीजी पर राहत मिली है। बैंक, एनबीएफसी और ऑटो सेक्टर को भी राहत देने की कोशिश की गई है। फिलहाल बाजार जानकारों ने वित्त मंत्री के फैसले का स्वागत किया है। बाजार जानकारों का कहना है कि सरकार ने यह साफ कर दिया है कि अर्थव्यवस्था को लेकर चिंता है, और इसे दूर करने के लिए सरकार कई बड़े उपायों पर काम कर रही है।

Write a comment