1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. हरे निशान में खुला शेयर बाजार, शुरुआती कारोबार में भारी उथल-पुथल

हरे निशान में खुला शेयर बाजार, शुरुआती कारोबार में भारी उथल-पुथल

नरम घरेलू संकेतों के कारण गुरुवार को शुरुआती कारोबार में घरेलू शेयर बाजार भारी उथल-पुथल में रहे। शुरुआती कारोबार में बीएसई के 30 शेयरों वाले संवेदी सूचकांक सेंसेक्स में करीब 250 अंकों का उतार-चढ़ाव देखने को मिला।

India TV Business Desk India TV Business Desk
Updated on: August 08, 2019 11:03 IST
share market open green symbol on 8 August 2019- India TV Paisa

share market open green symbol on 8 August 2019

मुंबई। नरम घरेलू संकेतों के कारण गुरुवार को शुरुआती कारोबार में घरेलू शेयर बाजार भारी उथल-पुथल में रहे। शुरुआती कारोबार में बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स में करीब 250 अंकों का उतार-चढ़ाव देखने को मिला। सेंसेक्स 4.78 अंक यानी 0.01 प्रतिशत की गिरावट के साथ 36,685.72 अंक पर कारोबार कर रहा था। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक​ निफ्टी 4.30 अंक यानी 0.04 प्रतिशत नरम होकर 10,851.20 अंक पर कारोबार करते देखे गए। इससे पहले बुधवार को सेंसेक्स में 286.35 अंक तथा निफ्टी में 92.75 अंक की गिरावट रही थी। 

सेंसेक्स की कंपनियों इंडसइंड बैंक, टाटा स्टील, एक्सिस बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी, टेक महिंद्रा और एशियन पेंट्स में तीन प्रतिशत तक की गिरावट रही। इनके अलावा एचसीएल में पांच प्रतिशत की तेजी रही। भारती एयरटेल, हीरो मोटोकॉर्प, टाटा मोटर्स, इंफोसिस और बजाज ऑटो में भी दो प्रतिशत तक की तेजी देखने को मिली। रिजर्व बैंक द्वारा रेपो दर में 0.35 प्रतिशत की कटौती करने के बाद बाजार में दूसरे दिन भी उथल-पुथल देखने को मिल रही है। 

विश्लेषकों के अनुसार, वैश्विक अर्थव्यवस्था के समक्ष उपस्थित चुनौतियों के मद्देनजर देश की अर्थव्यवस्था के बढ़ने की रफ्तार का अनुमान कम करने से बाजार पर दबाव है। इसके साथ ही विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) की जारी लिवाली से भी बाजार दबाव में है। शुरुआती आंकड़ों के अनुसार, बुधवार को एफपीआई ने घरेलू शेयर बाजारों से 531.66 करोड़ रुपये की शुद्ध बिकवाली की। एशियाई बाजार तेजी में चल रहे थे। 

कारोबार में रुपया 18 पैसे संभला 

रिजर्व बैंक के नीतिगत दर में 0.35 प्रतिशत की कटौती करने के बाद गुरुवार को शुरुआती कारोबार में रुपया 18 पैसे मजबूत होकर 70.71 रुपये प्रति डॉलर पर रहा। बुधवार को रुपया 70.89 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। कारोबारियों ने कहा कि घरेलू शेयर बाजारों की सतर्क शुरुआत को देखते हुए रुपये में सीमित दायरे में उतार-चढ़ाव देखने को मिला। शुरुआती आंकड़ों के अनुसार, बुधवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने घरेलू शेयर बाजारों से 383.66 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी की। इस बीच कच्चा तेल 2.74 प्रतिशत की तेजी के साथ 57.77 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था।

Write a comment