1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. शेयर बाजारों में लगातार चौथे दिन गिरावट, सेंसेक्स 241 अंक टूटा

शेयर बाजारों में लगातार चौथे दिन गिरावट, सेंसेक्स 241 अंक टूटा

कारोबारियों के अनुसार कुछ कंपनियों के वित्तीय परिणाम नरम रहने तथा विदेशी कोष की निकासी से भी कारोबारी धारणा प्रभावित हुई।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: February 12, 2019 17:49 IST
bse sensex- India TV Paisa
Photo:PTI

bse sensex

मुंबई। स्थानीय शेयर बाजारों में गिरावट का सिलसिला लगातार चौथे दिन मंगलवार को भी जारी रहा और बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 241 अंक से अधिक टूटा। वैश्विक बाजारों से सकारात्मक संकेतों के बावजूद स्थानीय बाजार में निवेशक वृहद आर्थिक आंकड़ों की घोषणा से पहले कोई जोखिम उठाने से बच रहे थे। दिन के कारोबार के अंतिम दौर में बिकवाली का जोर शुरू हो गया था जिससे बाजार में गिरावट दर्ज की गई।  

दिसंबर का औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) तथा जनवरी का उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़े आने से पहले निवेशकों ने रीयल एस्टेट, आईटी, रोजमर्रा के उपभोक्ता सामान बनाने वाली कंपनियों तथा बैंक शेयरों में बिकवाली की। कारोबारियों के अनुसार कुछ कंपनियों के वित्तीय परिणाम नरम रहने तथा विदेशी कोष की निकासी से भी कारोबारी धारणा प्रभावित हुई। 

एशिया के अन्य बाजारों में मजबूत रुख के साथ बीएसई सेंसेक्स सकारात्मक रुख के साथ खुला और कारोबार के दौरान 36,465.40 अंक के स्तर पर पहुंच गया। हालांकि बाद में मुनाफावसूली से बाजार में तेजी खत्म हो गयी और बीएसई सेंसेक्स 241.41 अंक या 0.66 प्रतिशत की गिरावट के साथ 36,153.62 अंक पर बंद हुआ। इससे पहले, पिछले तीन सत्रों में सेंसेक्स 580 अंक टूटा। 

नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी कारोबार के दौरान 10,910.90 के उच्च स्तर पर पहुंच गया। पर बाद में इसमें गिरावट आयी और यह अंत में यह 57.40 अंक या 0.53 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,831.40 अंक पर बंद हुआ। नुकसान में रहने वाले प्रमुख शेयरों में हीरो मोटो कार्प, एचडीएफसी, एसबीआई, इन्फोसिस, एचसीएल टेक, आईसीआईसीआई बैंक, बजाज फाइनेंस, ओएनजीसी, बजाज ऑटो तथा इंडसइंड बैंक शामिल हैं। इसमें 2.63 प्रतिशत तक की गिरावट आई। 

वहीं दूसरी तरफ सन फार्मा, कोल इंडिया, टाटा स्टील, एनटीपीसी, एशियन पेंट्स, वेदांता, महिंद्रा एंड महिंद्रा और आरआईएल में 2 प्रतिशत तक की तेजी आई। आशिका समूह के अध्यक्ष (इक्विटी शोध) पारस बोथरा ने कहा कि कमजोर वैश्विक रुख तथा मुद्रास्फीति तथा औद्योगिक उत्पादन आंकड़ा आने से पहले से बाजार आधे प्रतिशत से अधिक गिरावट के साथ बंद हुआ।  

अस्थायी आंकड़ों के अनुसार शुद्ध आधार पर विदेश पोर्टफोलियो निवेशकों ने सोमवार को 125.05 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर बेचे। वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 232.55 करोड़ रुपए के शेयर बेचे। एशियाई क्षेत्र में जापान का निक्केई 2.61 प्रतिशत, कोरिया का कोसपी 0.45 प्रतिशत, ताइवान 0.93 प्रतिशत तथा शंघाई कंपोजिट सूचकांक 0.68 प्रतिशत मजबूत हुए। हांगकांग का हैंग सेंग भी 0.10 प्रतिशत मजबूत हुआ। 

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban