1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. कश्‍मीर पर मोदी सरकार के एक्शन से सेंसेक्‍स 531 अंक टूटा, FPI की चिंता में 37,000 से नीचे आया

कश्‍मीर पर मोदी सरकार के एक्शन से सेंसेक्‍स 531 अंक टूटा, FPI की चिंता में 37,000 से नीचे आया

कश्मीर मुद्दे को लेकर भी निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई है। कश्मीर में अधिकारियों ने संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा बढ़ा दी है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: August 05, 2019 11:47 IST
Sensex cracks below 37,000-mark, tanks 531 points on FPI worries- India TV Paisa
Photo:SENSEX CRACKS BELOW 37,00

Sensex cracks below 37,000-mark, tanks 531 points on FPI worries

नई दिल्‍ली। सोमवार को मोदी सरकार का जम्‍मू-कश्‍मीर से धारा 370 और 35ए को खत्‍म करने के फैसले के बाद देश के शेयर बाजार की शुरुआत तेज गिरावट के साथ हुई। शुरुआती कारोबार में ही सुबह 9.54 बजे प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स की गिरावट बढ़कर 575.34 अंकों तक पहुंच गई और यह 36,542.88 पर कारोबार करते देखा गया। निफ्टी भी लगभग इसी समय 180.65 अंकों की कमजोरी के साथ 10,816.70 पर कारोबार करते देखा गया।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 276.05 अंकों की तेज गिरावट के साथ 36,842.17 पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 101.55 अंकों की कमजोरी के साथ 10,895.80 पर खुला।

जम्‍मू व कश्‍मीर के ताजा घटनाक्रम से विदेशी पूंजी निवेशकों की निकट भविष्‍य में स्थिरता को लेकर चिंताएं बढ़ गई हैं जिससे विदेशी पूंजी की निरंतर निकासी से बीएसई का सेंसेक्स 531 अंक गिरकर 37,000 अंक के नीचे आ गया। बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 531.94 अंक यानी 1.43 प्रतिशत गिरकर 36,586.28 अंक पर आ गया। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी शुरुआती दौर में 171.05 अंक यानी 1.56 प्रतिशत गिरकर 10,826.30 अंक पर चल रहा है।

कश्मीर मुद्दे को लेकर भी निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई है। कश्मीर में अधिकारियों ने संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा बढ़ा दी है। इसके अलावा मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया है और रविवार रात को कई नेताओं को "गिरफ्तार" या "हिरासत" में लिया गया है। शेयर बाजार के पास मौजूद प्रारंभिक आंकड़ों के मुताबिक , विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने शुक्रवार को शुद्ध रूप से 2,888.06 करोड़ रुपये के शेयर बेचे। इस बीच , भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक सोमवार  शुरू हो रही है।

विशेषज्ञों का मानना है कि इस समय अर्थव्यवस्था को तेजी देने के लिए नीतिगत ब्याज दर में कटौती की जा सकती है। यह लगातार चौथी कटौती होगी। अन्य एशियाई बाजारों में , शंघाई कंपोजिट सूचकांक , हेंगसेंग , निक्की और कॉस्पी में भी शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा। 

Write a comment