1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. सेंसेक्स 261 प्वाइंट घटकर 35286 पर बंद, ट्रंप के बयान के बाद वैश्विक बाजारों में गिरावट का असर

सेंसेक्स 261 प्वाइंट घटकर 35286 पर बंद, ट्रंप के बयान के बाद वैश्विक बाजारों में गिरावट का असर

दुनियाभर के शेयर बाजारों में मंगलवार को आई भारी गिरावट की वजह से भारतीय शेयर बाजार में भी बिकवाली देखने को मिली है, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 261.52 प्वाइंट की गिरावट के साथ 35286.74 पर बंद हुआ है जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 89.40 प्वाइंट घटकर 10710.45 पर बंद हुआ। दिन के कारोबार में सेंसेक्स ने 35249.06 और निफ्टी ने 10701.20 का निचला स्तर छुआ है

Manoj Kumar Manoj Kumar
Published on: June 19, 2018 15:50 IST
Sensex and Nifty falls after global market meltdown on Trump statement- India TV Paisa

Sensex and Nifty falls after global market meltdown on Trump statement

नई दिल्ली। दुनियाभर के शेयर बाजारों में मंगलवार को आई भारी गिरावट की वजह से भारतीय शेयर बाजार में भी बिकवाली देखने को मिली है, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 261.52 प्वाइंट की गिरावट के साथ 35286.74 पर बंद हुआ है जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 89.40 प्वाइंट घटकर 10710.45 पर बंद हुआ। दिन के कारोबार में सेंसेक्स ने 35249.06 और निफ्टी ने 10701.20 का निचला स्तर छुआ है।

मंगलवार को बाजार में अधिकतर सेक्टर इंडेक्स में भारी गिरावट आई है, रियल्टी, मेटल, पीएसयू बैंक, आईटी, मीडिया और ऑटो इंडेक्स सबसे ज्यादा घटे हैं। निफ्टी की कुल 50 में से 42 कंपनियों के शेयरों में गिरावट आई है जबकि सेंसेक्स की कुल 30 में से 26 कंपनियों के शेयर घटे हैं।

निफ्टी पर घटने वाली कंपनियों में सबसे आगे वेदांत, इंडियन ऑयल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम, यूपीएल, महिंद्रा एंड महिंद्रा, भारत पेट्रोलियम और अडानी पोर्ट्स के शेयर रहे। विदेशी बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आई रिकवरी की वजह से ऑयल मार्केटिंग कंपनियों के शेयरों पर सबसे ज्यादा दबाव रहा।

बाजार में गिरावट का मुख्य कारण अमेरिका और चीन के बीच बढ़ता व्यापार युद्ध है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन से आयात होने वाली लगभग 200 अरब डॉलर की अतीरिक्त वस्तुओं पर आयात शुल्क के बयान के बाद आज एशियाई और यूरोपीय शेयर बाजारों में गिरावट देखी गई है जिसका असर भारतीय बाजार पर पड़ा है, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ट ट्रंप ने कहा है कि उन्होंने अमेरिका के व्यापार अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वह चीन से आयात होने वाली 200 अरब डॉलर की उन वस्तुओं का चुनाव करें जिनपर अतीरिक्त 10 प्रतिशत आयात शुल्क लगाया जा सकता है, यह आयात शुल्क तब लागू होगा अगर चीन ने अमेरिकी वस्तुओं पर आयात शुल्क लगाना बंद नहीं किया। इसके जबाव में चीन ने भी कहा है कि अगर अमेरिका अतीरिक्त आयात शुल्क की धमकी पर आगे बढ़ता है तो वह भी अमेरिका के खिलाफ इस तरह का कदम उठाएंगे।

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban