1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. शेयर बाजार में इन 3 कारणों से आई भारी गिरावट, सेंसेक्स 200 और निफ्टी 60 अंक से ज्यादा टूटा

शेयर बाजार में इन 3 कारणों से आई भारी गिरावट, सेंसेक्स 200 और निफ्टी 60 अंक से ज्यादा टूटा

सेंसेक्स 200 अंक गिरकर 28146 पर आ गया है। वहीं, NSE का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 61 अंक की गिरावट के साथ 8731 के स्तर पर है।

Ankit Tyagi Ankit Tyagi
Updated on: February 15, 2017 13:07 IST
शेयर बाजार में इन 3 कारणों से आई भारी गिरावट, सेंसेक्स 200 और निफ्टी 60 अंक से ज्यादा टूटा- India TV Paisa
शेयर बाजार में इन 3 कारणों से आई भारी गिरावट, सेंसेक्स 200 और निफ्टी 60 अंक से ज्यादा टूटा

नई दिल्ली। अमेरिका में ब्याज दरें बढ़ने की आशंका के चलते घरेलू शेयर बाजार में गिरावट गहरा गई है। ऑटो, फार्मा और रियल्टी शेयरों में हुई बिकवाली के चलते बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स और निफ्टी दिन के निचले स्तर पर आ गए है। फिलहाल (1:00 PM) BSE का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 200 अंक गिरकर 28146 पर आ गया है। वहीं, NSE का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 61 अंक की गिरावट के साथ 8731 के स्तर पर है।

यह भी पढ़े: Make Money: बड़ी नहीं इन छोटी कंपनियों के शेयरों में बनेंगे पैसे, शॉर्ट टर्म के लिए लगाए दांव

क्यों आई बाजार में गिरावट

(1) अमेरिका में ब्याज दरें बढ़ने की आशंका

  • अमेरिकी सेंट्रल बैंक की चेयरमैन जेनेट येलेन ने मंगलवार को कहा कि ब्याज दरें बढ़ाने में देरी करना समझदारी नहीं होगी क्योंकि जॉब आंकड़े मजबूत हैं और मंहगाई भी बढ़ी है। जेनेट येलेन के बयान से डॉलर में मजबूती देखने को मिली है। येलेन ने कहा कि आने वाली बैठकों में दरें बढ़ाने पर चर्चा करेंगे और धीरे-धीरे दरें बढ़ने की उम्मीद है। जॉब मार्केट मजबूत स्थिति में दिख रही है। वित्तीय नीति में बदलाव से इकोनॉमिक आउटलुक पर असर हो सकता है।

(2) कमजोर नतीजों का असर

  • टाटा मोटर्स के दिसंबर तिमाही के नतीजे अनुमान से काफी खराब रहे है। जिसका असर आज कंपनी के शेयर पर देखने को मिल रहा है। इंट्राडे में शेयर 10 फीसदी तक टूट गया है। साथ ही, फार्मा सेक्टर की दिग्गज कंपनी सन फार्मा के मुनाफे में भी गिरावट देखने को मिली है।

(3) ऊपरी स्तर पर मुनाफावसूली 

  • एक्सपर्ट्स के मुताबिक राज्यों के विधान चुनाव के नतीजों से पर बाजार पर  मुनाफावसूली का दबाव गहरा गया है। इसीलिए बाजार में गिरावट देखने को मिल रही है।

बाजार की नजरें अब UP चुनाव के फैसले पर टिकीं

मायस्टॉकरिसर्च के हेड लोकेश उप्पल का कहना है कि मौजूदा समय में बाजार घरेलू और उत्तर प्रदेश चुनाव के नतीजों का इंतजार कर रहा हैं। जिसके चलते बाजार में उतार-चढ़ाव का माहौल बना हुआ है लेकिन बाजार सकारात्मक दिशा में कारोबार करता नजर आयेगा। निफ्टी में 8700-8725 स्तर के आसपास सपोर्ट बना हुआ हैं। अगर किसी कारण निफ्टी अपने सपोर्ट को तोड़ता है तो निफ्टी में अगला सपोर्ट 8550 के स्तर होगा।

यह भी पढ़े: Right Time: दिसंबर तिमाही में इन कंपनियों का मुनाफा 1000% तक बढ़ा, अब शेयरों में बड़ी तेजी की उम्मीद

सेक्टर इंडेक्स का हाल

  • NSE पर ऑटो, फार्मा और मेटल शेयरों में सबसे ज्यादा बिकवाली आई है।
  • निफ्टी के ऑटो इंडेक्स में 2.5 फीसदी, फार्मा इंडेक्स में 1.5 फीसदी और मेटल इंडेक्स में 2 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है।
  • हालांकि एफएमसीजी और मीडिया शेयरों में खरीदारी देखने को मिल रही है।

यह भी पढ़े: Price Hike Soon: मार्च में 10-15 रुपए तक महंगी हो सकती है चाय, केन्या के सूखे का असर

निफ्टी के 50 में से 36 शेयरों में भारी गिरावट

  • NSE के बेंचमार्क इंडेक्स निफ्टी के 50 में से 36 शेयरों में गिरावट का रुख है।
  • पांच सबसे ज्यादा गिरावट वाले शेयरों में टाटा मोटर्स, सन फार्मा BHEL और टाटा स्टील शामिल है।

टाटा मोटर्स के कमजोर नतीजों के बाद क्या करें

टाटा मोटर्स का मुनाफा 96 फीसदी गिरा

  • वित्त वर्ष 2017 की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का मुनाफा 96.2 फीसदी घटकर 112 करोड़ रुपए रह गया है। वित्त वर्ष 2016 की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स का मुनाफा 2952.7 करोड़ रुपए रहा था।
  • इस दौरान कंपनी की आय 4.3 फीसदी घटकर 68541 करोड़ रुपए रही है। वित्त वर्ष 2016 की तीसरी तिमाही में टाटा मोटर्स की आय 71616 करोड़ रुपए रही थी।

क्या कहते हैं ब्रोकरेज हाउस

  • गोल्डमैन सैक्स ने टाटा मोटर्स पर न्यूट्रल रेटिंग बरकरार रखी है।
  • सीएलएसए ने टाटा मोटर्स पर रेटिंग खरीद से घटाकर बिकवाली की दी है और लक्ष्य 650 से घटाकर 405 रुपए का तय किया है।
  • क्रेडिट सुईस ने टाटा मोटर्स पर आउटपरफॉर्म रेटिंग बरकरार रखते हुए लक्ष्य 680 से घटाकर 630 रुपए का तय किया है।
  • गोल्डमैन सैक्स ने टाटा मोटर्स पर न्यूट्रल रेटिंग बरकरार रखी है।
  • यूबीएल ने वित्त वर्ष 2017/18 के लिए टाटा मोटर्स का ईपीएस अनुमान 18-12 फीसदी घटाया है।
  • मैक्वायरी ने टाटा मोटर्स पर आउटपरफॉर्म रेटिंग बरकरार रखते हुए लक्ष्य 630 से घटाकर 575 रुपए का तय किया है।
  • सिटी ने टाटा मोटर्स पर निवेश की सलाह बरकरार रखते हुए लक्ष्य 660 रुपए प्रति शेयर का तय किया है।
  • डॉएश बैंक ने टाटा मोटर्स पर निवेश की सलाह बरकरार रखते हुए लक्ष्य 575 से घटाकर 535 रुपए का तय किया है।
  • बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच ने टाटा मोटर्स पर निवेश की सलाह बरकरार रखते हुए लक्ष्य 575 से घटाकर 560 रुपए का तय किया है।
  • जेपी मॉर्गन ने टाटा मोटर्स पर गिरावट में निवेश की सलाह देते हुए लक्ष्य 610 से घटाकर 570 रुपए का तय किया है।
Write a comment