1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. अनिल अंबानी की इन कंपनियों ने साल के पहले दिन ही निवेशकों को कर दिया मालामाल, एक दिन में दिया 25% रिटर्न

अनिल अंबानी की इन कंपनियों ने साल के पहले दिन ही निवेशकों को कर दिया मालामाल, एक दिन में दिया 25% रिटर्न

खबर लिखे जाते समय रिलायंस पावर में 20.70 फीसदी की तेजी देखी जा रही थी और यह 60.65 रुपए पर कारोबार कर रहा था। इसी प्रकार रिलायंस नैवल एंड इंजीनियरिंग में 20.51 फीसदी की तेजी देखी जा रही थी।

Manish Mishra Manish Mishra
Published on: January 01, 2018 15:23 IST
Mukesh and Anil Ambani- India TV Paisa
Mukesh and Anil Ambani

नई दिल्‍ली। अनिल धीरूभाई अंबानी ग्रुप (ADAG) ग्रुप की कंपनियों के निवेशकों को नए साल का जबरदस्‍त तोहफा मिला है। हमने देखा है कि रिलायंस कम्‍युनिकेशंस (RCOM) के शेयरों में कुछ दिनों के भीतर ही दोगुनी तेजी आ चुकी है। मतलब इसमें लगाया गया निवेशकों का पैसा डबल हो चुका है। आज, यानी साल के पहले दिन भी अनिल अंबानी की कंपनियों के शेयरों में जबरदस्‍त तेजी देखी जा रही है।

खबर लिखे जाते समय रिलायंस पावर में 20.70 फीसदी की तेजी देखी जा रही थी और यह 60.65 रुपए पर कारोबार कर रहा था। इसी प्रकार रिलायंस नैवल एंड इंजीनियरिंग में 20.51 फीसदी की तेजी देखी जा रही थी। रिलायंस होम फाइनेंस 10 फीसदी की तेजी के साथ 99.60 रुपए पर कारोबार कर रहा था।

अनिल अंबानी की शेयरों में देखी गई इतनी तेजी

ADAG Companies share price

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले ही रिलायंस कम्‍युनिकेशंस ने अपना वायरलेस कारोबार बेचने के लिए मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो के साथ समझौता किया था। उस दिन भी RCOM के शेयरों में 20 फीसदी तक की तेजी दर्ज की गई थी। समझौते के तहत रिलायंस जियो इंफोकॉम लिमिटेड (आरजेआईएल) आरकॉम से टॉवर, फाइबर और एमसीएन बिजनेस का अधिग्रहण करेगा।

इस सौदे को मुकेश अंबानी के छोटे भाई अनिल अंबानी की कंपनी आरकॉम के लिए बड़ी राहत के रूप में देखा जा रहा है। आरकॉम लगभग 45,000 करोड़ रुपए के भारी बोझ से दबी है और लंबे समय से इसे चुकाने के प्रयासों में जुटी है। उल्‍लेखनीय है कि इस सौदे की घोषणा स्‍व. धीरूभाई अंबानी के जन्‍मदिवस के अवसर पर की गई, जिससे दोनों भाइयों के बीच एक बार फि‍र नजदीकियां बढ़ने के संकेत मिल रहे हैं।

इससे पहले बुधवार को अनिल अंबानी ने स्‍ट्रेटेजिक डेट रिस्‍ट्रक्‍चरिंग (एसडीआर) कार्यक्रम से बाहर निकलने की घोषणा की थी। अनिल अंबानी ने कर्जदाताओं को आश्‍वासन दिया था कि कंपनी अपना पूरा कर्ज चुकाएगी और मार्च 2018 तक कर्ज को 25000 करोड़ रुपए कम करेगी।

Write a comment