1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. टॉप 10 कंपनियों में से 6 का बाजार पूंजीकरण एक लाख करोड़ रुपए से अधिक बढ़ा, TCS और HDFC को हुआ सबसे ज्‍यादा लाभ

टॉप 10 कंपनियों में से 6 का बाजार पूंजीकरण एक लाख करोड़ रुपए से अधिक बढ़ा, TCS और HDFC को हुआ सबसे ज्‍यादा लाभ

बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) के लिहाज से देश की टॉप 10 मूल्यवान कंपनियों में से 6 का मार्केट कैप पिछले सप्ताह संयुक्त रूप से 1,07,370.4 करोड़ रुपए बढ़ा।

Manish Mishra Manish Mishra
Published on: January 21, 2018 13:10 IST
BSE top 10 companies Market Cap- India TV Paisa
BSE top 10 companies Market Cap

नई दिल्ली बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) के लिहाज से देश की टॉप 10 मूल्यवान कंपनियों में से 6 का मार्केट कैप पिछले सप्ताह संयुक्त रूप से 1,07,370.4 करोड़ रुपए बढ़ा। टीसीएस, एचडीएफसी तथा एचडीएफसी बैंक सर्वाधिक लाभ में रहे। टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) का बाजार पूंजीकरण 34,811.32 करोड़ रुपए बढ़कर 5,65,624.13 करोड़ रुपए रहा। शीर्ष 10 कंपनियों में से सर्वाधिक लाभ में टीसीएस रही।

एचडीएफसी का बाजार पूंजीकरण 22,238.48 करोड़ रुपए बढ़कर 3,03,614.28 करोड़ रुपए जबकि एचडीएफसी बैंक का मार्केट कैप 22,158.51 करोड़ रुपए बढ़कर 5,05,384.92 करोड़ रुपए रहा। इंफोसिस का बाजार पूंजीकरण 14,162.91 करोड़ रुपए बढ़कर 2,49,680.06 करोड़ रुपए तथा आईटीसी का मार्केट कैप 7,740.94 करोड़ रुपए बढ़कर 3,33,835.66 करोड़ रुपए पहुंच गया। देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई का एमकैप 6,258.24 करोड़ रुपए बढ़कर 2,66,773.62 करोड़ रुपए रहा।

वहीं, दूसरी तरफ रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 10,981.64 करोड़ रुपए बढ़कर 5,88,642.81 करोड़ रुपए पहुंच गया और ओएनजीसी का मार्केट कैप 8,534.1 करोड़ रुपए कम होकर 2,48,451.43 करोड़ रुपए पर आ गया। मारुति सुजुकी इंडिया का मार्केट कैप 4,197.4 करोड़ रुपए घटकर 2,81,579.40 करोड़ रुपए रहा। हिंदुस्तान यूनिलीवर का बाजार पूंजीकरण 2,196.94 करोड़ रुपए घटकर 2,94,921.03 करोड़ रुपए पर आ गया।

पिछले सप्ताह सेंसेक्स 919.19 अंक या 2.65 प्रतिशत जबकि एनएसई निफ्टी 213.45 अंक या 1.99 प्रतिशत लाभ में रहा। बाजार पूंजीकरण के लिहाज से शीर्ष 10 कंपनियों में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर रहा। उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, आईटीसी, एचडीएफसी, एचयूएल, मारुति, एसबीआई, इंफोसिस तथा ओएनजीसी का स्थान रहा।

Write a comment