1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. भारत बना दुनिया का सबसे बड़ा चावल निर्यातक, 2017-18 में किया करीब 50 हजार करोड़ के चावल का एक्सपोर्ट

भारत बना दुनिया का सबसे बड़ा चावल निर्यातक, 2017-18 में किया करीब 50 हजार करोड़ के चावल का एक्सपोर्ट

देश से चावल निर्यात का नया रिकॉर्ड बना है। वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक मार्च में खत्म हुए वित्तवर्ष 2017-18 के दौरान देश से कुल 126.85 लाख टन चावल का निर्यात हुआ है जो इतिहास में अबतक का सबसे अधिक निर्यात है और पूरी दुनिया में किसी देश की तरफ से एक साल में किया गया सबसे अधिक एक्सपोर्ट भी है

Manoj Kumar Manoj Kumar
Published on: April 25, 2018 17:07 IST
India rice export- India TV Paisa

India rice export rose to all time high during 2017-18

नई दिल्ली। देश से चावल निर्यात का नया रिकॉर्ड बना है। वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक मार्च में खत्म हुए वित्तवर्ष 2017-18 के दौरान देश से कुल 126.85 लाख टन चावल का निर्यात हुआ है जो इतिहास में अबतक का सबसे अधिक निर्यात है और पूरी दुनिया में किसी देश की तरफ से एक साल में किया गया सबसे अधिक एक्सपोर्ट भी है।

वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक वित्तवर्ष 2016-17 के दौरान देश से 107.56 लाख टन चावल का निर्यात हुआ था, यानि 2017-18 के दौरान निर्यात में करीब 18 प्रतिशत का उछाल देखने को मिला है। हालांकि बासमती चावल के निर्यात में इतनी ज्यादा बढ़ोतरी नहीं हुई है जितना उछाल गैर बासमती चावल के एक्सपोर्ट में देखने को मिला है। आंकड़ों के मुताबिक 2017-18 के दौरान गैर बासमती चावल का निर्यात करीब 27.50 प्रतिशत बढ़कर 86.33 लाख टन दर्ज किया गया है जबकि बासमती चावल का निर्यात करीब 2 प्रतिशत बढ़कर 40.52 लाख टन रहा है।

कृषि आधारित प्रोसेस्ड उत्पादों में चावल भारत से सबसे ज्यादा निर्यात होने वाला उत्पाद है, वित्तवर्ष 2017-18 के दौरान देश से कुल 49768 करोड़ रुपए के चावल का निर्यात हुआ है जो 2016-17 में हुए 38443 करोड़ रुपए से करीब 29.50 प्रतिशत ज्यादा है। वित्तवर्ष 2017-18 में भारत से कुल 1,18,819 करोड़ रुपए के कृषि आधारित कृषि उत्पादों का निर्यात हुआ है जिसमें चावल की हिस्सेदारी करीब 42 प्रतिशत है।

Write a comment