1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. टॉप-10 में आठ कंपनियों का मार्केट कैप 58,650 करोड़ रुपए बढ़ा, TCS को हुआ सबसे ज्‍यादा फायदा

टॉप-10 में आठ कंपनियों का मार्केट कैप 58,650 करोड़ रुपए बढ़ा, TCS को हुआ सबसे ज्‍यादा फायदा

सेंसेक्स की टॉप-10 में से आठ कंपनियों का मार्केट कैप (बाजार पूंजीकरण) बीते सप्ताह 58,650.26 करोड़ रुपए बढ़ गया। आईटी क्षेत्र की टीसीएस सबसे अधिक लाभ में रही।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Published on: February 25, 2018 11:26 IST
M cap- India TV Paisa
M cap

नई दिल्ली। सेंसेक्स की टॉप-10 में से आठ कंपनियों का मार्केट कैप (बाजार पूंजीकरण) बीते सप्ताह 58,650.26 करोड़ रुपए बढ़ गया। आईटी क्षेत्र की टीसीएस सबसे अधिक लाभ में रही। टॉप-10 की सूची में सिर्फ हिंदुस्तान यूनिलीवर और मारुति सुजुकी के बाजार पूंजीकरण में गिरावट आई। वहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक, आईटीसी, एचडीएफसी, इंफोसिस,  ओएनजीसी और एसबीआई के मार्केट कैप में बढ़ोतरी हुई। 

समीक्षाधीन सप्ताह में टीसीएस का बाजार मूल्यांकन 26,742.6 करोड़ रुपए बढ़कर 5,89,007.15 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। रिलायंस इंडस्ट्रीज की बाजार हैसियत 7,790.98 करोड़ रुपए बढ़कर 5,91,607.74 करोड़ रुपए पर पहुंच गई। इंफोसिस का बाजार पूंजीकरण 6,729.43 करोड़ रुपए बढ़कर 2,52,407.03 करोड़ रुपए हो गया।

एचडीएफसी के बाजार पूंजीकरण में 5,963.88 करोड़ रुपए का इजाफा हुआ और यह 2,96,103.60 करोड़ रुपए रहा। ओएनजीसी की बाजार हैसियत 4,363.3 करोड़ रुपए बढ़कर 2,43,831.47 करोड़ रुपए हो गई।  भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) को सप्ताह के दौरान 3,754.95 करोड़ रुपए का फायदा रहा और उसका बाजार मूल्यांकन 2,38,331.01 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। आईटीसी का बाजार मूल्यांकन 3,292.16 करोड़ रुपए बढ़कर 3,28,057.31 करोड़ रुपए रहा। 

एचडीएफसी बैंक का बाजार पूंजीकरण 12.96 करोड़ रुपए की वृद्धि के साथ 4,87,256.42 करोड़ रुपए रहा। वहीं दूसरी ओर हिंदुस्तान यूनिलीवर का बाजार पूंजीकरण 6,374.39 करोड़ रुपए के नुकसान से 2,86,360.51 करोड़ रुपए रह गया। मारुति सुजुकी के बाजार पूंजीकरण में 4,069.02 करोड़ रुपए की गिरावट आई और यह 2,62,969.75 करोड़ रुपए रह गया। टॉप-10 की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर रही। उसके बाद टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, आईटीसी, एचडीएफसी, हिंदुस्तान यूनिलीवर, मारुति, इंफोसिस, ओएनजीसी और एसबीआई का स्थान रहा।

Write a comment