1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. गैजेट
  5. शाओमी ने भारत में स्थापित कीं स्मार्टफोन, पीसीबी विनिर्माण इकाइयां

शाओमी ने भारत में स्थापित कीं स्मार्टफोन, पीसीबी विनिर्माण इकाइयां

शाओमी अपने 50 ग्लोबल सप्लायर्स को भारत में लेकर आ रही है और वह उन्हें भारत में निवेश के मौकों के बारे में जागरूक करना चाहती है, उम्मीद है सभी सप्लायर भारत में निवेश करने का फैसला लेंगे

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 09, 2018 15:17 IST
Xiaomi established smartphone units - India TV Paisa

Xiaomi established smartphone and PCB manufacturing units in India

नई दिल्ली। मोबाइल हैंडसेट बनाने वाली चीन की कंपनी शाओमी ने भारत में तीन स्मार्टफोन विनिर्माण संयंत्र स्थापित करने के बाद अब प्रिंटेड सर्किट बोर्ड ( PCB ) बनाने के केंद्र भी स्थापित कर रही है। ये केंद्र संयंत्र आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में होंगे।किसी भी मोबाइल फोन के मूल्य में आधार हिस्सा पीसीबी का होता है। 

कंपनी ने इन केंद्रो में निवेश का ब्योरा नहीं दिया है लेकिन उसका दावा है कि इससे भारत में उसकी विनिर्माण क्षमता दोगुनी हो जाएगी। शाओमी के उपाध्यक्ष एवं भारतीय परिचालन के प्रबंध निदेशक मनु जैन ने सोमवार को बताया कि पहले देश में हमारे दो विनिर्माण संयंत्र थे। अब आंध्रप्रदेश के श्री सिटी और तमिलनाडु के श्रीपेरंबदूर में हमने तीन नयी इकाइयां और खोली हैं। ये सभी फॉक्सकॉन के साथ साझेदारी में हैं।

उन्होंने कहा कि नोएडा में भी एक अन्य भागीदार हाईपैड के साथ थोड़ी संख्या में स्मार्टफोन बनाए जा रहे हैं। जैन ने कहा कि इससे अब कंपनी परिचालन के समय में प्रति सेकेंड में दो फोन की गति से विनिर्माण कर सकती है। इन संयंत्रों से करीब 10,000 लोगों को रोजगार मिलेगा। इनमें 95% महिलाएं हैं। 

कंपनी श्रीपेरंबदूर में ही फॉक्सकॉन के साथ मिलकर एक नयी पीसीबी असेंबल करने का सुविधा स्थापित कर रही है। जैन ने कहा कि उनकी कंपनी भारत में ही विनिर्माण करने को प्रतिबद्ध हैं। पीसीबी किसी भी फोन के मूल्य का 50% होता है ...और तीसरी तिमाही तक भारत में बने सभी शाओमी फोनों में यहीं असेंबल पीसीबी लगे होंगे

मनु जैन ने अपने ट्विटर हेंडल से बताया कि शाओमी अपने 50 ग्लोबल सप्लायर्स को भारत में लेकर आ रही है और वह उन्हें भारत में निवेश के मौकों के बारे में जागरूक करना चाहती है, उन्होंने बताया कि उम्मीद है सभी सप्लायर भारत में निवेश करने का फैसला लेंगे और भारत में अपने मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाएंगे।

Write a comment