1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. गैजेट
  5. गूगल ने तोड़ी परंपरा: मिठाई के नाम पर नहीं होंगे OS के नाम, Android Q का नाम किया रीवील

गूगल ने तोड़ी परंपरा: मिठाई के नाम पर नहीं होंगे OS के नाम, Android Q का नाम किया रीवील

गूगल (Google) ने गुरुवार को अपनी परंपरा को तोड़ते हुए नेक्स्ट जेनरेशन के ऑपरेटिंग सिस्टम Android Q का आधिकारिक नाम रीवील कर दिया है। बता दें कि Android Q से पहले जितने भी ऑपरेटिंग सिस्टम लॉन्च हुए हैं उनका नाम किसी न किसी खास मिठाई (डीजर्ट) के नाम पर रखा गया है।

India TV Business Desk India TV Business Desk
Published on: August 23, 2019 8:44 IST
google changed tradition revealed android q official name known as android 10- India TV Paisa

google changed tradition revealed android q official name known as android 10

नई दिल्ली। गूगल (Google) ने गुरुवार को अपनी परंपरा को तोड़ते हुए नेक्स्ट जेनरेशन के ऑपरेटिंग सिस्टम Android Q का आधिकारिक नाम रीवील कर दिया है। बता दें कि Android Q से पहले जितने भी ऑपरेटिंग सिस्टम लॉन्च हुए हैं उनका नाम किसी न किसी खास मिठाई (डीजर्ट) के नाम पर रखा गया है। इस बार Google ने Android Q का नाम किसी डीजर्ट पर न रखते हुए Android 10  रखने का फैसला लिया है। Android के आधिकारिक Youtube चैनल से जारी किए गए वीडियो में इस नए नाम को रीवील किया गया है।

ऐंड्रॉयड प्रॉडक्ट मैनेजमेंट के वाइस प्रेजिडेंट समीर सामत ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, 'एक ग्लोबल ऑपरेटिंग सिस्टम के तौर पर ये नाम कुछ ऐसे होने चाहिए जो स्पष्ट हों और दुनिया में हर कोई इससे रिलेट कर सके। ऐसे में ऐंड्रॉयड के अगले वर्जन के लिए साधारण तौर पर नंबर का इस्तेमाल किया जाएगा और इसे ऐंड्रॉयड 10 के नाम से जाना जाएगा। हम ऐसी उम्मीद करते हैं कि इस बदलाव से हमारे ग्लोबल कम्युनिटी को आसान नाम रिलीज करने में मदद मिलेगी।'

मीठाई से जुड़ा नाम रखने का ट्रेडिशन किया खत्म

बता दें कि गूगल अब तक अपने ऐंड्रॉयड के हर नए वर्जन को अल्फाबेटिकली ऑर्डर के साथ नया नाम देता आया है। इन नामों की सबसे बड़ी खासियत यह थी कि यह किसी न किसी स्वीट यानी मीठे से जुड़े होते थे, उदाहरण के लिए पुराना ऐंड्रॉयड वर्जन P से शुरू हुआ था और उसका नाम Pie रखा गया था। वहीं इससे पहले वाले वर्जन का नाम ओ से शुरू हुआ था और उसका नाम ओरियो रखा गया था जो मार्केट में मिलने वाली कूकीज का प्रकार है। ऐसे ही इसके पहले नॉगट और मार्शमैलो जैसे नाम भी देखने को मिले थे, लेकिन अब गूगल ने इस ट्रेडिशन को छोड़ते हुए नंबर में नाम रखने का फैसला किया है।

ऐंड्रॉयड का लोगो भी होगा अपडेट

Android 10 को इस साल के अंत तक आधिकारिक तौर पर स्मार्टफोन्स के लिए रोल आउट करना शुरू कर दिया जाएगा। नए ऑपरेटिंग सिस्टम को सबसे पहले Google Pixel 4 सीरीज के लिए रोल आउट किया जा सकता है। इसके बाद एंड्रॉइड वन प्लेटफॉर्म पर आधारित डिवाइस के लिए इस ऑपरेटिंग सिस्टम को रोल आउट किया जाएगा। नए आइडिया के तहत दिग्गज कंपनी गूगल इसके साथ ही ऐंड्रॉयड लोगो को भी अपडेट करने वाली है। यह लोगो पहले से ज्यादा मॉर्डन और ऐक्सेसिबल लुक में होगा। नया सॉफ्टवेयर कब तक उपलब्ध होगा, फिलहाल इसकी कोई रिलीज डेट सामने नहीं आई है, लेकिन पोस्ट के मुताबिक इसे आने वाले हफ्तों में ऐंड्रॉयड 10 के फाइनल रिलीज के साथ जारी कर दिया जाएगा।

ऐंड्रॉयड 10 में मिलने वाले हैं कई खास फीचर्स
बता दें कि गूगल के लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम ऐंड्रॉयड 10 में कई अपग्रेड देखने को मिल सकते हैं। ऐंड्रॉयड 10 के सबसे खास फीचर के तौर पर पर्सनल इंफॉर्मेशन को प्राइवेट रखने वाला फीचर है। ऐंड्रॉयड 10 के नए प्रिवेसी फीचर्स लोकेशन कंट्रोल और डेडिटेड प्रिवेसी सेटिंग के साथ आएंगे। इसके साथ ही ऐंड्रॉयड 10 फोल्डेबल स्क्रीन, फास्टर ऐप लॉन्च और फुल-ऑन गेस्चर नेविगेशन को सपॉर्ट करेगा। इतना ही नहीं, नए ऑपरेटिंग सिस्टम में आपको बबल नोटिफिकेशन और स्लाइट लाइन कैप्शन फीचर भी मिलने वाले हैं। इसमें सिस्टम वाइड डार्क मोड समेत कई आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस फीचर्स दिए गए हैं। Android 10 में Apple के डिवाइस की तरह ही जेस्चर बार नीचे की तरफ दिया गया है। इसमें स्वाइप अप और होल्ड करके रिसेंटली यूज्ड ऐप पर जा सकते हैं। इसके लिए आपको लेफ्ट या राइट में स्क्रॉल करना होगा। किसी ऐप में स्वीच करने के लिए आपको लेफ्ट या राइट स्वाइप करना होगा। Google ने एंड्रॉइड डिवाइस के लिए कॉल पिक और डिस्क्नेक्ट करने के लिए स्मार्ट रिप्लाई फीचर जोड़ा है। यह फीचर आपके बदले किसी भी मैसेज को रिप्लाई कर सकेगा। गूगल ने इस फीचर का नाम लाइव रिले रखा है। यह लाइव कैप्शन उन लोगों के लिए मददगार होगा जो बोल नहीं सकते हैं और क्म्युनिकेट नहीं कर सकते हैं। यह फीचर मशीन लर्निंग का इस्तेमाल करते हुए उन नोटिफिकेशन को आइडेंटिफाई करेगा जो ज्यादा महत्वपूर्ण है साथ ही, उन मैसेज को इग्नोर कर देगा जो ज्यादा जरूरी नहीं है।

कई कंपनियां गूगल के साथ कर रही हैं काम
नए अपडेट को लेकर अपने डिवाइस बनाने के लिए कई कंपनियां गूगल के साथ बीटा प्रोसेस पर काम कर रही हैं। इन कंपनियों में हुवावे और वनप्लस के नाम भी शामिल हैं, जिनके नए डिवाइस पहले से ही 10 बीटा प्रोग्राम के लिए सर्टिफाइड हैं। हालांकि, गूगल ने इसके लिए कोई टाइमलाइन नहीं दी है। 

Write a comment