1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. गैजेट
  5. DoT अगले महीने से शुरू कर सकता है खोए हुए मोबाइल के लिए ट्रैकिंग सिस्‍टम, SIM या IMEI नंबर बदलने पर भी लग जाएगा पता

DoT अगले महीने से शुरू कर सकता है खोए हुए मोबाइल के लिए ट्रैकिंग सिस्‍टम, SIM या IMEI नंबर बदलने पर भी लग जाएगा पता

दूरसंचार विभाग संसद सत्र के बाद इस नई टेक्नोलॉजी को लॉन्च करने के लिए दूरसंचार मंत्री से संपर्क करेगा। संसद का मौजूदा सत्र 26 जुलाई तक चलेगा।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: July 08, 2019 11:51 IST
DoT likely to start tracking system for lost mobiles next month- India TV Paisa
Photo:TRACKING SYSTEM

DoT likely to start tracking system for lost mobiles next month

नई दिल्ली। केंद्र सरकार अगले महीने खोए हुए या चोरी हुए मोबाइल फोन का पता लगाने के लिए एक नया ट्रैकिंग सिस्‍टम शुरू करने जा रही है। दूरसंचार विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि इस नए ट्रैकिंग सिस्‍टम की मदद से सिम कार्ड हटा देने या यूनिक कोड आईएमईआई नंबर बदलने पर भी चोरी हुए मोबाइल फोन का पता लगाना संभव होगा।

सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ टेलीमेटिक्‍स (सी-डॉट) ने इस नई ट्रैकिंग टेक्‍नोलॉजी को तैयार किया है और इस नई सर्विस को अगस्‍त में लॉन्‍च करने की संभावना है। दूरसंचार विभाग के अधिकारी ने बताया कि सी-डॉट नई टेक्‍नोलॉजी के साथ तैयार है। दूरसंचार विभाग संसद सत्र के बाद इस नई टेक्‍नोलॉजी को लॉन्‍च करने के लिए दूरसंचार मंत्री से संपर्क करेगा। संसद का मौजूदा सत्र 26 जुलाई तक चलेगा। 

दूरसंचार विभाग ने जुलाई, 2017 में नकली मोबाइल फोन और चोरी की घटनाओं में कमी लाने के लक्ष्य के साथ सी-डॉट को सेंट्रल एक्विपमेंट आइडेंटीटी रजिस्टर (सीईआईआर) विकसित करने का काम दिया था। सरकार ने सीईआईआर के गठन के लिए 15 करोड़ रुपए की राशि आवंटित की थी। 

सीईआईआर प्रणाली सिम कार्ड निकालने या आईएमईआई नंबर बदले जाने के बावजूद चोरी या खोए हुए फोन पर सभी तरह की सेवाओं को अवरूद्ध कर देगी। इस सिस्‍टम से उपभोक्‍ताओं के हितों की रक्षा और कानून प्रवर्तन अधिकारियों को कानूनी जांच में मदद की उम्‍मीद है।

Write a comment
arun-jaitley