1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. मार्च माह में थोक महंगाई दर बढ़कर हुई 3.18%, महंगे खाद्य पदार्थ और ईंधन की वजह से बढ़ी मुद्रास्‍फीति

मार्च माह में थोक महंगाई दर बढ़कर हुई 3.18%, महंगे खाद्य पदार्थ और ईंधन की वजह से बढ़ी मुद्रास्‍फीति

फरवरी महीने में थोक मुद्रास्फीति 2.93 प्रतिशत तथा पिछले साल मार्च महीने में 2.74 प्रतिशत रही थी। मार्च 2019 के दौरान खाद्य पदार्थों और सब्जियों के दाम में तेजी देखने को मिली।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 15, 2019 15:53 IST
wpi- India TV Paisa
Photo:WPI

wpi

नई दिल्ली। खाद्य एवं ईंधन की कीमतों में तेजी के कारण थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति लगातार दूसरे महीने बढ़ गई और मार्च में 3.18 प्रतिशत पर पहुंच गई। सोमवार को जारी सरकारी आंकड़ों में इसकी जानकारी मिली। 

फरवरी महीने में थोक मुद्रास्फीति 2.93 प्रतिशत तथा पिछले साल मार्च महीने में 2.74 प्रतिशत रही थी। मार्च 2019 के दौरान खाद्य पदार्थों और सब्जियों के दाम में तेजी देखने को मिली।

 सब्जियों में मुद्रास्फीति फरवरी के 6.82 प्रतिशत से बढ़कर मार्च में 28.13 प्रतिशत पर पहुंच गई। हालांकि आलू के भाव में तेजी फरवरी के 23.40 प्रतिशत से गिरकर मार्च में 1.30 प्रतिशत पर आ गई।

आलोच्य महीने के दौरान खाद्य पदार्थों में मुद्रास्फीति 5.68 प्रतिशत रही। ईंधन एवं बिजली श्रेणी में भी मुद्रास्फीति फरवरी के 2.23 प्रतिशत से बढ़कर मार्च में 5.41 प्रतिशत पर पहुंच गई।

एक सप्ताह पहले जारी आंकड़ों के अनुसार मार्च महीने के दौरान खुदरा मुद्रास्फीति भी फरवरी के 2.57 प्रतिशत से बढ़कर 2.86 प्रतिशत पर पहुंच गई।  

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban