1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. #RelianceJioComingSoon: कॉल रेट के बाद अब डेटा चार्ज पर होगी टेलीकॉम ऑपरेटर्स में वॉर, G20 में सुनील मित्तल का इशारा

#RelianceJioComingSoon: कॉल रेट के बाद अब डेटा चार्ज पर होगी टेलीकॉम ऑपरेटर्स में वॉर, G20 में सुनील मित्तल का इशारा

टेलिकॉम इंडस्‍ट्री का कहना है कि रिलायंस जियो के आने के बाद डेटा चार्ज में 50 फीसदी तक कमी आ सकती है।

Abhishek Shrivastava [Updated:17 Nov 2015, 3:07 PM IST]
#RelianceJioComingSoon: कॉल रेट के बाद अब डेटा चार्ज पर होगी टेलीकॉम ऑपरेटर्स में वॉर, G20 में सुनील मित्तल का इशारा- India TV Paisa
#RelianceJioComingSoon: कॉल रेट के बाद अब डेटा चार्ज पर होगी टेलीकॉम ऑपरेटर्स में वॉर, G20 में सुनील मित्तल का इशारा

नई दिल्‍ली। साल 2002 आपको याद है। इस साल 28 दिसंबर को रिलायंस इंफोकॉम ने कर लो दुनिया मुट्ठी में नारा देकर मोबाइल कॉल रेट में क्रांति की थी। रिलायंस ने पूरे देश में एक साथ अपनी मोबाइल सेवा लॉन्‍च कर जहां आम आदमी के हाथ में मोबाइल थमा दिया था, वहीं टेलीकॉम ऑपरेटर्स को कॉल रेट घटाने पर मजबूर किया था। रिलायंस की बदौलत ही मोबाइल पर इनकमिंग कॉल फ्री हुई और आउटगोइंग कॉल रेट रुपए से घटकर पैसे में आ गए। अब एक बार फि‍र देश में रिलायंस जियो डेटा वॉर शुरू करने जा रही है। इस बात के संकेत भारत की सबसे बड़ी मोबाइल नेटवर्क कंपनी एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्‍तल ने हाल ही में जी-20 देशों के बी-20 समूह की बैठक में दिए हैं। मित्‍तल ने कहा है कि रिलायंस जिओ भारत की टेलीकॉम इंडस्‍ट्री पर बड़ा असर डालेगी। इंडस्‍ट्री के जानकारों का कहना है कि रिलायंस जियो के आने के बाद डेटा चार्ज में 50 फीसदी तक कमी आ सकती है।

क्‍या किया था रिलायंस ने

28 दिसंबर 2002 में रिलायंस इंफोकॉम ने इंडियामोबाइल नाम की योजना पेश की थी। इसमें 3000 रुपए वन टाइम मेंबरशिप चार्ज और 600 रुपए प्रति माह शुल्‍क पर उपभोक्‍ताओं को फ्री में डिजिटल मोबाइल फोन और 10 पैसे में 15 सेकेंड वॉइस कॉल की सुविधा दी थी। इसके अलावा सभी इनकमिंग कॉल फ्री की गई थीं, जो इससे पहले चार्जेबल थीं। इतना ही नहीं वैल्‍यू एडेड सर्विसेस जैसे वॉइस मेल, कॉल वेटिंग, कॉल होल्‍ड, कॉल डायवर्ट, कॉल आइडेंटीफि‍केशन, कॉल कॉन्‍फ्रेंसिंग, डायनामिक एसटीडी/आईएससडी लॉकिंग और टेक्‍स्‍ट मैसेजिंग को भी फ्री में उपलब्‍ध कराया गया था, जबकि अन्‍य कंपनियां इन सबके लिए अगले से शुल्‍क वसूलती थीं।

हिल जाएगा पूरा टेलीकॉम सेक्‍टर

टर्की में चल रही जी-20 देशों की बैठक में बी-20 ग्रुप की बैठक में हिस्‍सा लेने यहां पहुंचे सुनील भारती मित्‍तल ने ब्‍लूमबर्ग को दिए एक इंटरव्‍यू में कहा कि रिलायंस जियो पूरी भारतीय टेलीकॉम इंडस्‍ट्री को हिला कर रख देगी। उन्‍होंने कहा कि रिलायंस जियो के आने के बाद टेलीकॉम इंडस्‍ट्री में कंसोलीडेशन का दौर शुरू होगा।

रिलायंस जो करता है वह बड़ा होता है

मित्‍तल ने कहा कि रिलायंस जो भी करता है, वो हमेशा बड़ा और प्रभावशाली होता है। इसलिए रिलायंस ने एक बार फि‍र टेलीकॉम सेक्‍टर में बहुत बड़ा करने की योजना बनाई है। सुनने में आ रहा है कि रिलायंस जियो अगले 30,60 या 90 दिन के भीतर अपनी कमर्शियल सर्विस शुरू कर देगी। वर्तमान में भारत में 10-11 ऑपरेटर्स हैं और जल्‍द ही इनकी संख्‍या घटकर 4 या 5 हो जाएगी।

मुकेश अंबानी ने किया 70,000 करोड़ रुपए का

इस साल जून में रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा था कि रिलायंस जियो इस साल दिसंबर में अपना कमर्शियल ऑपरेशन शुरू कर देगी। रिलायंस ने इस वेंचर में 70,000 करोड़ रुपए से ज्‍यादा का निवेश किया है। यह हाई स्‍पीड 4जी इंटरनेट के साथ ही म्‍यूजिक स्‍ट्रीमिंग सर्विस, मोबाइल वॉलेट और न्‍यूज प्‍लेटफॉर्म जैसी सर्विसेस भी मुहैया कराएगी।

एयरटेल ने भी किया बड़ा निवेश

शायद यही वजह है कि सुनील भारती मित्‍तल को भी अपना नेटवर्क मजबूत करने के लिए खूब पैसा खर्च करना पड़ा है। मित्‍तल ने बताया कि भारती एयरटेल अपनी 4जी सर्विस को और मजबूत करने के लिए अगले साल मार्च तक 3.5 अरब डॉलर का निवेश करेगी। इसके अलावा एयरटेल अन्‍य कंपनियों ने स्‍पेक्‍ट्रम खरीदने पर भी विचार कर रही है।

अन्‍य कंपनियां भी कर रही हैं तैयारी

अन्‍य टेलीकॉम कंपनियां भी 4जी सर्विस पर बहुत अधिक पैसा निवेश कर रही हैं। इस साल अगस्‍त में वोडाफोन इंडिया ने कहा था कि वह इस साल के अंत तक भारत के सभी प्रमुख शहरों में 4जी सर्विस शुरू कर देगी। आदित्‍य बिड़ला ग्रुप की आइडिया सेल्‍यूलर भी ग्रामीण इलाकों में अपनी पहुंच बढ़ाने में लगी हुई है।

Web Title: टेलिकॉम ऑपरेटर्स के बीच होगी अब डेटा वॉर
Write a comment