1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. अब Vodafone के यूजर्स भी ले सकते हैं HD वॉयस कॉल का मजा, कंपनी ने दिल्‍ली, मुंबई और गुजरात में शुरू की VoLTE सर्विस

अब Vodafone के यूजर्स भी ले सकते हैं HD वॉयस कॉल का मजा, कंपनी ने दिल्‍ली, मुंबई और गुजरात में शुरू की VoLTE सर्विस

Vodafone के ग्राहकों के लिए अच्‍छी खबर है। कंपनी ने मुंबई, गुजरात और दिल्‍ली-एनसीआर में VoLTE सर्विस की शुरुआत कर दी है। रिलायंस जियो के बाद एयरटेल ने कई राज्‍यों में VoLTE सर्विस शुरू की थी और अब वोडाफोन भी इस रेस में शामिल हो गई है।

Manish Mishra Manish Mishra
Updated on: February 11, 2018 11:46 IST
Vodafone- India TV Paisa
Vodafone, Volte Service

नई दिल्‍ली। Vodafone के ग्राहकों के लिए अच्‍छी खबर है। कंपनी ने मुंबई, गुजरात और दिल्‍ली-एनसीआर में VoLTE सर्विस की शुरुआत कर दी है। रिलायंस जियो के बाद एयरटेल ने कई राज्‍यों में VoLTE सर्विस शुरू की थी और अब वोडाफोन भी इस रेस में शामिल हो गई है। आने वाले महीनों में Vodafone कर्नाटक और कोलकाता में यह सर्विस लॉन्‍च करने जा रही है। Vodafone चरणबद्ध तरीके से पूरे देश में जल्‍द ही VoLTE सर्विस शुरू कर देगी। Vodafone 4G के ग्राहक VoLTE सर्विस का इस्‍तेमाल बिना किसी अतिरिक्‍त शुल्‍क के कर सकते हैं। सभी कॉल की बिलिंग वर्तमान प्‍लान के अनुसार ही की जाएगी।

आपको बता दें कि कंपनी ने इस सर्विस की शुरुआत मुंबई, दिल्‍ली-एनसीआर और गुजरात के सूरत और अहमदाबाद में शुरू कर दी है। वोडाफोन ने अपने यूजर्स को इस संदर्भ में मैसेज भेजना शुरू कर दिया है। आपका हैंडसेट वोडाफोन वोल्‍टे सर्विस को सपोर्ट करता है या नहीं इसकी जानकारी आप यहां क्लिक कर प्राप्‍त कर सकते हैं।

SMS

क्‍या है VoLTE या वोल्‍ट सर्विस

इंटरनेट प्रोटोकॉल या IP पर आधारित LTE (लॉन्‍ग टर्म इवॉल्‍यूशन) नेटवर्क को ही VoLTE (Voice Over Long Term Evolution) का नाम दिया गया है। दरअसल LTE के जरिए वॉयस कॉलिंग भी की जा सकती है। इसके लिए टेलिकॉम ऑपरेटर्स को अपने वॉयस कॉल नेटवर्क में बदलाव लाना पड़ता है।

VoLTE से होने वाली कॉलिंग की क्वालिटी सेल्युलर नेटवर्क से होने वाली कॉलिंग से बेहतर होती है। इसीलिए VoLTE से होने वाली वॉयस कॉलिंग को HD वॉयस कॉलिंग कहा जाता है।

VoLTE से ऑपरेटर को वॉयस और डाटा के लिए अलग बैंड इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं पड़ती। वॉयस डाटा को एक ऐप के डाटा की तरह ही LTE डाटा नेटवर्क के जरिए संचारित किया जा सकता है। इसी टेक्‍नोलॉजी को रिलायंस जियो इस्तेमाल कर रही है।

Write a comment