1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Vodafone-Idea के मर्जर की बातचीत अंतिम दौर में, 25 फरवरी को हो सकता है ऐलान

Vodafone-Idea के मर्जर की बातचीत अंतिम दौर में, 25 फरवरी को हो सकता है ऐलान

Vodafone-Idea के बीच विलय की डील एक महीने के अंदर फाइनल हो जाने की संभावना है। अगर सूत्रों की माने तों यह डील 25 फरवरी तक होने की पूरी उम्मीद है।

Ankit Tyagi Ankit Tyagi
Published on: February 20, 2017 7:41 IST
Vodafone-Idea के मर्जर की बातचीत अंतिम दौर में, 25 फरवरी को हो सकता है ऐलान- India TV Paisa
Vodafone-Idea के मर्जर की बातचीत अंतिम दौर में, 25 फरवरी को हो सकता है ऐलान

नई दिल्ली। देश के दो बड़ी टेलिकॉम कंपनी Vodafone और Idea के बीच विलय की डील एक महीने के अंदर फाइनल हो जाने की संभावना है। अगर सूत्रों की माने तों यह डील 25 फरवरी तक होने की पूरी उम्मीद है। आपको बता दें इस विलय के तहत वोडाफोन की भारतीय इकाई और आइडिया सेलुलर का विलय हो जाएगा। यह टेलीकॉम सेक्टर का सबसे बड़ा सौदा होगा। इस विलय के बाद बनने वाली कंपनी दूरसंचार क्षेत्र में देश की सबसे बड़ी कंपनी होगी जिसके 40 करोड़ से ज्यादा ग्राहक होंगे।

यह भी पढ़े: टेक महिंद्रा को उम्‍मीद, वोडाफोन-आइडिया के विलय से मिलेगा कंपनी को ज्‍यादा कारोबार

24-25 फरवरी को हो सकती है डील की घोषणा

  • सूत्रों ने कहा, दोनों कंपनियां 24-25 फरवरी को निश्चित समझौते की घोषणा कर सकती हैं।
  • एक अन्य सूत्र के अनुसार, वे समझौता करने के लिए लगभग तैयार हैं और इसकी घोषणा महीने भर से अधिक समय नहीं लगना चाहिए। हालांकि, वोडाफोन व आइडिया, दोनों ने इस मामले में टिप्पणी से इनकार किया है।

यह भी पढ़े: Reliance Jio effect: Idea को 10 साल में पहली बार लगा ये बड़ा झटका, हुआ 385 करोड़ रुपए का घाटा

अंतिम दौर में पहुंची बातचीत

  • वोडाफोन ने प्रस्तावित विलय पर काम करने के लिए अपनी भारतीय इकाई के पूर्व प्रमुख मार्टिन पीटर्स की सेवाएं ली हैं।
  • वोडाफोन ग्रुप के सीईओ वितोरियो कोलाओ अगले सप्ताह अपनी भारतीय इकाई के सभी व्यापार प्रमुखों को प्रस्तावित विलय के बारे में बता सकते हैं।

यह भी पढ़ें : Jio को टक्कर में Airtel के बाद Idea ने लॉन्च किया नया अनलिमिटेड FREE कॉल और इन्टरनेट डेटा प्लान

विलय के बाद बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी 

  • इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च के अनुसार यदि दोनों के बीच विलय सौदे को लेकर सहमति बन जाती है तो मिलकर बनने वाली नई दूरसंचार कंपनी भारत की सबसे बड़ी कंपनी होगी।
  • दूरसंचार क्षेत्र के राजस्व में इसकी हिस्सेदारी करीब 40 फीसदी होगी और 38 करोड़ से अधिक इसके ग्राहक होंगे।

यह भी पढ़ें : आइडिया सेल्‍यूलर बनी देश की बेहतरीन टेलीकॉम कंपनी, नहीं होती है एक भी कॉल ड्रॉप

Write a comment
bigg-boss-13