1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Q4 Results: वेदांता का मुनाफा 34% बढ़कर हुआ 5,675 करोड़, पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस ने कमाए 219 करोड़ रुपए

Q4 Results: वेदांता का मुनाफा 34% बढ़कर हुआ 5,675 करोड़, पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस ने कमाए 219 करोड़ रुपए

खनन क्षेत्र की प्रमुख कंपनी वेदांता लिमिटेड का मार्च में समाप्त चौथी तिमाही में एकीकृत शुद्ध लाभ 34 प्रतिशत बढ़कर 5,675 करोड़ रुपए रहा। इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह आंकड़ा 4,226 करोड़ रुपए था।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: May 03, 2018 20:51 IST
vedanta- India TV Paisa

vedanta

नई दिल्‍ली। खनन क्षेत्र की प्रमुख कंपनी वेदांता लिमिटेड का मार्च में समाप्त चौथी तिमाही में एकीकृत शुद्ध लाभ 34 प्रतिशत बढ़कर 5,675 करोड़ रुपए रहा। इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह आंकड़ा 4,226 करोड़ रुपए था। 

कंपनी ने एक बयान में कहा कि समीक्षावधि में उसकी परिचालन से आय 17 प्रतिशत बढ़कर 27,630 करोड़ रुपए रही। इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह 23,691 करोड़ रुपए थी। पूरे वित्त वर्ष 2017-18 के लिए कंपनी का शुद्ध लाभ 21 प्रतिशत बढ़कर 13,692 करोड़ रुपए रहा, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 11,319 करोड़ रुपए था। 

 

पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस का मुनाफा 44 प्रतिशत बढ़ा

पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस का शुद्ध लाभ 2017-18 की मार्च में समाप्त चौथी तिमाही में 44 प्रतिशत बढ़कर 219.20 करोड़ रुपए रहा। इससे पिछले वर्ष की इसी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 152.4 करोड़ रुपए रहा था। 

कंपनी ने बयान में कहा कि आलोच्य तिमाही में उसकी आय 2016-17 के 1,075.98 करोड़ रुपए से बढ़कर 2017-18 में 1,570.21 करोड़ रुपए हो गई। पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस के निदेशक मंडल ने 2017-18 के लिए अपने शेयरधारकों को प्रति शेयर 9 रुपए का अंतिम लाभांश देने की सिफारिश की है। 

एलएंडटी फाइनेंस होल्डिंग को 406 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ 

एलएंडटी फाइनेंस होल्डिंग (एलटीएफएच) का मार्च में समाप्त चौथी तिमाही में एकीकृत शुद्ध लाभ 28 प्रतिशत बढ़कर 406 करोड़ रुपए हो गया। इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में कंपनी का शुद्ध लाभ 316 करोड़ रुपए था।

कंपनी ने बताया कि जनवरी-मार्च तिमाही में उसकी कुल आय 2,937.44 करोड़ रुपए रही, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 2,238.09 करोड़ रुपए थी। पूरे वित्त वर्ष 2017-18 में कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ 40 प्रतिशत बढ़कर 1,459 करोड़ रुपए रहा, जो 2016-17 में 1,042 करोड़ रुपए था। 

इमामी का मुनाफा 28 प्रतिशत गिरा 

एफएमसीजी कंपनी इमामी का एकीकृत शुद्ध लाभ 2017-18 की चौथी तिमाही में 28.29 प्रतिशत गिरकर 59.73 करोड़ रुपए रह गया। 2016-17 की इसी तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 83.3 करोड़ रुपए था। इमामी ने कहा कि न्यूनतम वैकल्पिक कर (मैट) के 14 करोड़ रुपए के क्रेडिट को बट्टेखाते में डालने की वजह से मुनाफे पर असर पड़ा है।

कंपनी ने नियामकीय जानकारी में कहा कि आलोच्य अवधि में उसकी कुल आय 619.14 करोड़ रुपए रही, जो कि 2016-17 की इसी तिमाही में 585.04 करोड़ रुपए थी। वहीं, पूरे वित्त वर्ष (2017-18) के लिए उसका एकीकृत लाभ 9.91 प्रतिशत गिरकर 306.3 करोड़ रुपए रह गया, जो एक वर्ष पहले इसी अवधि में 340.01 करोड़ रुपए था। 

डीएचएफएल प्रमेरिका लाइफ इंश्योरेंस को 106 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ 

बीमा कंपनी डीएचएफएल प्रमेरिका लाइफ इंश्योरेंस (डीपीएलआई) का मार्च में समाप्त चौथी तिमाही में शुद्ध लाभ 31.7 करोड़ रुपए रहा है। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में यह आंकड़ा 26.4 करोड़ रुपए था। कंपनी ने एक बयान में बताया कि इस अवधि में कंपनी सकल दर्ज प्रीमियम 584.2 करोड़ रुपए रहा, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की अवधि में 392.6 करोड़ रुपए था। 

पूरे वित्त वर्ष 2017-18 में कंपनी का शुद्ध लाभ 73 प्रतिशत बढ़कर 105.9 करोड़ रुपए रहा, जो 2016-17 में 61.4 करोड़ रुपए था। इस अवधि में कंपनी का सकल दर्ज प्रीमियम 1,844.5 करोड़ रुपए रहा, जो 2016-17 में 1,142.1 करोड़ रुपए था। 

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban