1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. डोनाल्‍ड ट्रंप ने साधा भारत पर निशाना, अमेरिकी शराब और हार्ले डेविडसन पर ऊंचे आयात शुल्‍क पर जताई नाराजगी

डोनाल्‍ड ट्रंप ने साधा भारत पर निशाना, अमेरिकी शराब और हार्ले डेविडसन मोटरसाइकिल पर ऊंचे आयात शुल्‍क पर जताई नाराजगी

गुरुवार को पारस्परिक व्यापार अधिनियम पर व्हाइट हाउस में आयोजित एक कार्यक्रम में ट्रंप ने एक ग्रीन बोर्ड पर विभिन्न देशों के साथ किए जाने वाले व्यापार में गैर-पारस्परिक शुल्कों का उदाहरण पेश किया।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: January 25, 2019 18:33 IST
Donald Trump- India TV Paisa
Photo:DONALD TRUMP

Donald Trump

वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि उनकी नजर भारत में अमेरिकी शराब पर लगने वाले 150 प्रतिशत के ऊंचे आयात शुल्क पर है। उन्होंने कहा कि इससे पहले भारत में हार्ले-डेविडसन मोटरसाइकिल पर 100 प्रतिशत आयात शुल्क लगता था लेकिन उनकी दो मिनट की बातचीत के बाद भारत ने इसे घटाकर 50 प्रतिशत कर दिया जो एक उचित समझौता है। 

ट्रंप ने हार्ले-डेविडसन के आयात पर भारत में लगाए जाने वाले ऊंचे आयात शुल्क को अनुचित बताया। उन्होंने अमेरिका में आयात होने वाली भारतीय मोटरसाइकिल पर शुल्क बढ़ाने की धमकी दी थी, जिसके बाद पिछले साल फरवरी में भारत ने अमेरिका से आयात की जाने वाली हार्ले-डेविडसन मोटरसाइकिल पर आयात शुल्क को 50 प्रतिशत कर दिया था। 

गुरुवार को पारस्परिक व्यापार अधिनियम पर व्हाइट हाउस में आयोजित एक कार्यक्रम में ट्रंप ने एक ग्रीन बोर्ड पर विभिन्न देशों के साथ किए जाने वाले व्यापार में गैर-पारस्परिक शुल्कों का उदाहरण पेश किया। 

ट्रंप ने कहा कि मोटरसाइकिल के उदाहरण को ही देखें, भारत में इस पर आयात शुल्क 100 प्रतिशत था। मात्र दो मिनट की बातचीत में मैंने उनसे इसे 50 प्रतिशत करवा लिया। यह अभी भी 50 प्रतिशत है, जबकि अमेरिका में आयात की जाने वाली मोटरसाइकिल पर मात्र 2.4 प्रतिशत शुल्क लगता है। लेकिन फिर भी यह एक उचित समझौता है।  

हालांकि ट्रंप ने भारत द्वारा अमेरिकी शराब पर लगाए जाने वाले ऊंचे शुल्क पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि भारत में बहुत ऊंचा शुल्क है। वे बहुत ज्यादा शुल्क लगाते हें। आप व्हिस्की को ही देख लें, भारत उस पर 150 प्रतिशत शुल्क लगाता है और हमें कुछ नहीं मिलता। व्हाइट हाउस में सांसदों के साथ एक बातचीत के दौरान ट्रंप ने कहा कि पारस्परिक व्यापार कानून अमेरिकी कामगारों को अन्य देशों के साथ एक समान और उचित स्तर पर व्यापार की सुविधा देगा। 

अमेरिकी सरकार के अनुसार, भारत और अमेरिका के बीच 2017 में 126 अरब डॉलर मूल्य का व्यापार हुआ था, जिसमें अमेरिका की हिस्सेदारी भारत से 27 अरब डॉलर कम रही। ट्रंप के पारस्परिक व्यापार अधिनियम का उनकी अपनी ही पार्टी ने विरोध किया है क्योंकि उनको लगता है कि इससे व्यापार बाधित होगा। डेमोक्रेट भी प्रस्तावित कानून के खिलाफ हैं।

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban