1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. धोखाधड़ी पकड़ने के लिए निजी इकाइयों की मदद लेगी GSTN, आमंत्रित की निविदाएं

धोखाधड़ी पकड़ने के लिए निजी इकाइयों की मदद लेगी GSTN, आमंत्रित की निविदाएं

जीएसटी नेटवर्क (GSTN) ने किसी भी तरह की धोखाधड़ी को पकड़ने के लिए करदाताओं से जुड़ी जानकारी के विश्लेषण काम निजी इकाइयों से करवाने का फैसला किया है। कंपनी ने इसके लिए निविदाएं आमंत्रित की हैं।

Edited by: Manish Mishra [Published on:07 May 2018, 7:52 PM IST]
GST- India TV Paisa

GST

नई दिल्‍ली। जीएसटी नेटवर्क (GSTN) ने किसी भी तरह की धोखाधड़ी को पकड़ने के लिए करदाताओं से जुड़ी जानकारी के विश्लेषण काम निजी इकाइयों से करवाने का फैसला किया है। कंपनी ने इसके लिए निविदाएं आमंत्रित की हैं। GSTN इस नई कर प्रणाली के लिए आईटी बुनियादी ढांचा उपलब्ध करवाती है और वह केवल जीएसटी संग्रहण पोर्टल से इतर इस प्रक्रिया में किसी तरह की कर चोरी रोकने में भी मदद करना चाहती है।

इस काम के लिए जिस कंपनी की सेवाएं ली जानी है वह धोखाधड़ी विश्लेषण प्रणाली बनाएगी। हालांकि, जीएसटीएन ने इन्फोसिस को इस प्रक्रिया में भाग लेने की अनुमति नहीं दी है ताकि हितों में टकराव की किसी गुंजाइश को खत्म किया जा सके।

जीएसटीएन की सूचना के अनुसार इच्छुक बोलीदाता का सालाना कारोबार 300 करोड़ रुपए का होना चाहिए तथा वह बीते तीन साल से मुनाफा कमा रही हो। इस तरह की कंपनी की नियुक्ति छह साल के लिए की जाएगी।

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019