1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Survey: महंगाई ने फीकी की दिवाली, इस बार 43 फीसदी कम खर्च करेगा आम आदमी

Survey: महंगाई ने फीकी की दिवाली, इस बार 43 फीसदी कम खर्च करेगा आम आदमी

मध्यम और निम्न आय वर्ग के परिवार इस बार दिवाली पर पिछले साल की तुलना में 43 फीसदी कम खर्च करेंगे।

Abhishek Shrivastava [Updated:09 Nov 2015, 6:48 PM IST]
Survey: महंगाई ने फीकी की दिवाली, इस बार 43 फीसदी कम खर्च करेगा आम आदमी- India TV Paisa
Survey: महंगाई ने फीकी की दिवाली, इस बार 43 फीसदी कम खर्च करेगा आम आदमी

नई दिल्‍ली। मध्यम और निम्न आय वर्ग के परिवार इस बार दिवाली पर पिछले साल की तुलना में 43 फीसदी कम खर्च करेंगे। उद्योग मंडल एसोचैम के ताजा सर्वे के अनुसार दैनिक खाद्य वस्तुओं की आसमान छूती कीमतों, शिक्षा की ऊंची लागत और रोजगार बाजार के कमजोर परिदृश्य की वजह से इस बार परिवार त्योहारी सीजन का बजट घटा रहे हैं।

यह सर्वे देश के प्रमुख शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, अहमदाबाद, हैदराबाद, पुणे, चंडीगढ़ तथा देहरादून में किया गया था। सर्वे में विभिन्न क्षेत्रों वाहन, जैव प्रौद्योगिकी, बैंकिंग, वित्तीय सेवा और बीमा, ऊर्जा, एफएमसीजी, सूचना प्रौद्योगिकी, फार्मास्युटिकल तथा रियल एस्टेट क्षेत्र के 1,650 लोगों को शामिल किया गया था। दिल्ली के मध्यम और निम्न आय वर्ग के 67 फीसदी लोगों ने कहा कि दैनिक खाद्य वस्तुओं के दामों में वृद्धि, शिक्षा की ऊंची लागत, रोजगार के अवसरों में कमी तथा पिछले साल की तुलना में वेतन पैकेज में कमी की वजह से इस बार त्योहारी सीजन उनके लिए उत्साहविहीन रहेगा।

दिल्‍ली वाले कटौती करने में सबसे आगे

त्योहारी सीजन के खर्च में कटौती करने के मामले में दिल्ली पहले स्थान पर है। उसके बाद अहमदाबाद, मुंबई, चंडीगढ़, कोलकाता और चेन्नई का नंबर आता है। एसोचैम के महासचिव डीएस रावत ने कहा कि एक और बात है कि इस साल ग्रामीण मांग 2014 की तुलना में 48 फीसदी घटी है। मानसून के कमजोर रहने, रोजगार के कम अवसर तथा कम आय की वजह से ग्रामीण मांग में कमी आई है।

अधिक डिस्‍काउंट पर खरीदारी के लिए तैयार

सर्वे में शामिल 56 फीसदी लोगों ने कहा कि खाद्य वस्तुओं के दाम काफी चढ़ चुके हैं। ऐसे में वे इस त्योहारी सीजन में कम खर्च करने की योजना बना रहे हैं। 21 फीसदी ने कहा कि बचत के मूल्य में कमी आई है। वहीं 15 फीसदी का कहना था कि वे बड़ी खरीद के लिए बचत कर रहे हैं। वहीं आठ फीसदी लोगों ने कहा कि मासिक किस्त बढ़ गई है। 65 फीसदी का कहना था कि यदि उन्‍हें बहुत अधिक डिस्‍काउंट मिलता है तो वे खरीदारी करेंगे। ज्यादातर लोगों ने अपने व्यक्तिगत खर्च में कमी की तैयारी की है।  करीब 54 फीसदी लोग सिर्फ सेल या छूट पर खरीदारी की तैयारी कर रहे हैं। 27 फीसदी मिठाई और कपड़ों पर कम खर्च करेंगे। 12 फीसदी ने कहा कि इस बार वे कम उपहार खरीदेंगे। 5 फीसदी ने रिसाइकल्ड उपहार खरीदने की बात कही, जबकि दो फीसदी लोगों ने कहा कि वे समूह में उपहार खरीदेंगे।

Web Title: इस बार दिवाली पर आम आदमी करेगा अपने खर्चों में कटौती
Write a comment