1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. एक या दो महीने में वित्त मंत्रालय से विदाई लूंगा, यह मेरी सबसे अच्‍छी नौकरी थी : सीईए सुब्रह्मण्यम

एक या दो महीने में वित्त मंत्रालय से विदाई लूंगा, यह मेरी सबसे अच्‍छी नौकरी थी : सीईए सुब्रह्मण्यम

मुख्य आर्थिक सलाहकार (CEA) अरविंद सुब्रह्मण्यम ने बुधवार को कहा कि वह एक दो माह में वित्त मंत्रालय से विदाई ले लेंगे। सुब्रह्मण्यम ने कहा कि यह मेरी सबसे अच्छी नौकरी थी। यह मेरे लिए हमेशा सबसे बढ़िया नौकरी रहेगी।

Manish Mishra Manish Mishra
Published on: June 20, 2018 17:26 IST
Arvind Subramanian- India TV Paisa

Arvind Subramanian

नई दिल्ली। मुख्य आर्थिक सलाहकार (CEA) अरविंद सुब्रह्मण्यम ने बुधवार को कहा कि वह एक दो माह में वित्त मंत्रालय से विदाई ले लेंगे। हालांकि, उन्होंने कहा कि अभी वित्त मंत्रालय छोड़ने के लिए उन्होंने कोई तारीख तय नहीं की है। इससे पहले दिन में केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने फेसबुक पोस्ट के जरिये कहा था कि सुब्रह्मण्यम करीब चार बाद जरूरी पारिवारिक प्रतिबद्धताओं की वजह से वित्त मंत्रालय छोड़ रहे हैं और अमेरिका लौट रहे हैं। सुब्रह्मण्यम ने कहा कि यह मेरी सबसे अच्छी नौकरी थी। यह मेरे लिए हमेशा सबसे बढ़िया नौकरी रहेगी।

जेटली को ‘ड्रीम बॉस’ बताते हुए सुब्रह्मण्यम ने कहा कि मैं अच्छी यादों के साथ वापस जाऊंगा। मैं भविष्य में हमेशा देश सेवा के लिए प्रतिबद्ध रहूंगा। सुब्रह्मण्यम को 16 अक्तूबर , 2017 को वित्त मंत्रालय में तीन साल के लिए मुख्य आर्थिक सलाहकार नियुक्त किया गया था। बाद में उन्हें एक साल का विस्तार दिया गया।

यह पूछे जाने पर कि वह वित्त मंत्रालय से कब विदाई ले रहे हैं, सुब्रह्मण्यम ने कहा कि उन्होंने अभी तारीख तय नहीं की है। मैं एक या दो महीने में विदाई लूंगा। उन्होंने बताया कि सितंबर में वह दादा बनने वाले हैं। सुब्रह्मण्यम ने कहा कि उनके उत्तराधिकारी की तलाश जल्द शुरू की जाएगी।

इससे पहले जेटली ने बताया कि कुछ दिन पहले सुब्रह्मण्यम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये मुझसे बात की। उन्होंने बताया कि वह पारिवारिक प्रतिबद्धताओं की वजह से अमेरिका लौटना चाहते हैं। उनके कारण व्यक्तिगत हैं, लेकिन उनके लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। मेरे पास उनसे सहमत होने के अलावा कोई विकल्प नहीं था।

जेटली ने कहा कि पिछले साल अक्‍टूबर में सुब्रह्मण्यम का तीन साल का कार्यकाल पूरा हुआ था। इसके बाद उन्होंने सुब्रह्मण्यम से कुछ समय और पद पर बने रहने का आग्रह किया था। जेटली ने कहा कि यहां तक उन्होंने अभी मुझे बताया है कि वह पारिवारिक प्रतिबद्धताओं और मौजूदा नौकरी के बीच फंसे हुए हैं। यह उनकी अब तक की यह सबसे संतोषजनक नौकरी है।

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban