1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Q3 Results: टेक महिंद्रा का शुद्ध लाभ 10 फीसदी बढ़कर 943 करोड़ रुपए हुआ, इमामी को हुआ 147 करोड़ का मुनाफा

Q3 Results: टेक महिंद्रा का शुद्ध लाभ 10 फीसदी बढ़कर 943 करोड़ रुपए हुआ, इमामी को हुआ 147 करोड़ का मुनाफा

IT सेक्‍टर की टॉप कंपनियों में शामिल टेक महिंद्रा का एकीकृत शुद्ध लाभ तीसरी तिमाही में 10.2 प्रतिशत बढ़कर 943.1 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। 2016 की इसी अवधि में कंपनी का शुद्ध लाभ 856 करोड़ रुपए था।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Updated on: January 30, 2018 13:35 IST
net profit- India TV Paisa
net profit

नई दिल्‍ली। IT सेक्‍टर की टॉप कंपनियों में शामिल टेक महिंद्रा का एकीकृत शुद्ध लाभ तीसरी तिमाही में 10.2 प्रतिशत बढ़कर 943.1 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। 2016 की इसी अवधि में कंपनी का शुद्ध लाभ 856 करोड़ रुपए था। कॉस्ट में कटौती के चलते कंपनी के मार्जिन में बढ़ोतरी भी हुई है।

भारतीय मानक के अनुरुप, समीक्षाधीन अवधि में कंपनी की एकीकृत आय 7,776 करोड़ रुपए हो गई है, जो 2016 की तीसरी तिमाही में आय 7,557.5 करोड़ रुपए से 2.9 प्रतिशत अधिक है। दिसंबर तिमाही के लिए प्रति शेयर लाभ 10.73 रुपए रहा। टेक महिंद्रा के वाइस चेयरमैन विनीत नय्यर ने कहा कि हमारा ध्यान डिजिटल रूप से परिवर्तन, भविष्य की मांग को पूरा करने के लिए लगातार पुनर्संरचना पर है। जिसके उत्साहजनक परिणाम दिखाई दे रहे हैं।

ठीक पिछली तिमाही में, शुद्ध लाभ 12.8 प्रतिशत जबकि राजस्व 2.2 प्रतिशत अधिक था। डॉलर के आधार पर कंपनी का मुनाफा 2016 के मुकाबले 2017 में 16.5 प्रतिशत बढ़कर 14.7 करोड़ डॉलर हो गया है, जबकि आय 8.3 प्रतिशत बढ़कर 1.2 अरब डॉलर हो गई है। टेक महिंद्रा में 1,15,241 लोग कार्यरत हैं।

इमामी का शुद्ध लाभ 9 प्रतिशत बढ़ा  

एफएमसीजी कंपनी इमामी का एकीकृत शुद्ध लाभ 31 दिसंबर को समाप्त हुई तीसरी तिमाही में 9.56 प्रतिशत बढ़कर 147.08 करोड़ रुपए हो गया। 2016 की अक्‍टूबर-दिसंबर अवधि में शुद्ध लाभ 134.34 करोड़ रुपए था।

परिचालन से होने वाली कुल आय 734.12 करोड़ रुपए से बढ़कर 762.16 करोड़ रुपए हो गई। कंपनी ने कहा कि जीएसटी लागू किए जाने के बाद थोक माध्यम में सामान्य स्थिति होना अभी बाकी है जबकि ग्रामीण और खुदरा खंड में तेजी दिखाई दे रही है और आगे भी इसके जारी रहने की उम्मीद है।

इमामी के निदेशक मोहन गोयनका ने कहा कि कंपनी ने इस तिमाही के अंत में संतोजनक मात्रा में वृद्धि दर्ज की है। खुदरा और ग्रामीण कारोबार में तेजी लौट आई है और यह दहाई अंक में आगे बढ़ रही है जबकि थोक कारोबार में अभी भी कुछ दबाव है। इमामी का कुल खर्च 5.25 प्रतिशत बढ़कर 467.41 करोड़ से 491.96 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है।

Write a comment