1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. टाटा है सबसे मूल्यवान भारतीय ब्रांड, LIC दूसरे नंबर पर और अनिल अंबानी समूह 56वें स्थान पर

टाटा है सबसे मूल्यवान भारतीय ब्रांड, LIC दूसरे नंबर पर और अनिल अंबानी समूह 56वें स्थान पर

टाटा समूह न केवल देश का सबसे मूल्यवान ब्रांड है, बल्कि शीर्ष 25 ब्रांडों में इसने सबसे तेज वृद्धि भी दर्ज की है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: July 17, 2019 13:16 IST
Tata most valuable Indian brand in 2019; LIC, Infosys and SBI next- India TV Paisa
Photo:TATA MOST VALUABLE INDIAN

Tata most valuable Indian brand in 2019; LIC, Infosys and SBI next

मुंबई। टाटा समूह देश के 100 सबसे मूल्यवान ब्रांड्स की सूची में 2019 में लगातार दूसरे साल शीर्ष पर रहा है। टाटा ब्रांड के मूल्य में 37 प्रतिशत का इजाफा हुआ है और यह 19.6 अरब डॉलर पर पहुंच गया। इस सूची में एलआईसी दूसरे और इंफोसिस तीसरे स्थान पर है। 

इंग्लैंड स्थित ब्रांड फाइनेंस की मंगलवार को जारी सूची में अनिल धीरूभाई अंबानी समूह का भी जिक्र है। समीक्षाधीन वर्ष के दौरान समूह का ब्रांड मूल्य 65 प्रतिशत घटकर 55.9 करोड़ डॉलर के निचले स्तर पर आ गया। इस सूची में अनिल अंबानी समूह 28 स्थान फिसलकर 56वें पायदान पर चला गया। 

टाटा समूह का ब्रांड मूल्य 2018 में 14.23 अरब डॉलर था। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि टाटा समूह न केवल देश का सबसे मूल्यवान ब्रांड है, बल्कि शीर्ष 25 ब्रांडों में इसने सबसे तेज वृद्धि भी दर्ज की है। समीक्षाधीन अवधि में समूह का ब्रांड मूल्य 37 प्रतिशत बढ़ा है। इसमें कहा गया है कि समूह ने वाहन, आईटी सेवा, इस्पात और रसायन क्षेत्र में लगातार वृद्धि दर्ज की है। 

सार्वजनिक क्षेत्र की बीमा कंपनी एलआईसी ब्रांड मूल्य के हिसाब से दूसरे स्थान पर है। समीक्षाधीन अवधि में एलआईसी का ब्रांड मूल्य 22.8 प्रतिशत बढ़कर 7.32 अरब डॉलर पर पहुंच गया। सॉफ्टवेयर कंपनी इंफोसिस का ब्रांड मूल्य इस दौरान 7.7 प्रतिशत बढ़कर 6.50 अरब डॉलर पर पहुंच गया। इंफोसिस इस सूची में तीसरे स्थान पर रही। 

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) 5.97 अरब डॉलर के मूल्य के साथ चौथे स्थान पर रहा। इसके ब्रांड मूल्य में 34.4 प्रतिशत का इजाफा हुआ। महिंद्रा समूह का ब्रांड मूल्य 35.5 प्रतिशत बढ़कर 5.24 अरब डॉलर पर पहुंच गया। एचडीएफसी बैंक का मूल्य 19 प्रतिशत बढ़कर 4.84 अरब डॉलर रहा। सूची में एचडीएफसी बैंक छठे स्थान पर रहा। 

दूरसंचार क्षेत्र से सिर्फ एयरटेल शीर्ष दस में स्थान बनाने में कामयाब रही। हालांकि कंपनी का ब्रांड मूल्य 28.1 प्रतिशत घटकर 4.79 अरब डॉलर रह गया। सूची में यह सातवें स्थान पर है। इस सूची में एचसीएल 4.64 अरब डॉलर के ब्रांड मूल्य के साथ आठवें, रिलायंस 4.54 अरब डॉलर के ब्रांड मूल्य के साथ नौवें और विप्रो चार अरब डॉलर के ब्रांड मूल्य के साथ दसवें स्थान पर रहा है। 

अनिल धीरूभाई अंबानी समूह का ब्रांड मूल्य 65 प्रतिशत घटकर 55.9 करोड़ डॉलर रह गया। सूची में यह 28 स्थान फिसलकर 56वें स्थान पर आ गया। शीर्ष सौ ब्रांडों में अनिल धीरूभाई अंबानी समूह का ब्रांड मूल्य सबसे ज्यादा घटा है। 

Write a comment