1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Shopmate करेगी छोटे शहरों में विस्‍तार, यहां ग्राहकों को मिलते हैं सस्ती कीमत पर मोबाइल, टैबलेट व बाइक

Shopmate करेगी छोटे शहरों में विस्‍तार, यहां ग्राहकों को मिलते हैं सस्ती कीमत पर मोबाइल, टैबलेट व बाइक

सामूहिक मांग के आधार पर सस्ते में उत्पाद उपलब्ध कराने का दावा करने वाली स्टार्ट-अप कंपनी Shopmate ने इस साल छोटे शहरों में विस्तार का लक्ष्य रखा है।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Updated on: June 17, 2016 16:32 IST
Shopmate करेगी छोटे शहरों में विस्‍तार, यहां ग्राहकों को मिलते हैं सस्ती कीमत पर मोबाइल, टैबलेट व बाइक- India TV Paisa
Shopmate करेगी छोटे शहरों में विस्‍तार, यहां ग्राहकों को मिलते हैं सस्ती कीमत पर मोबाइल, टैबलेट व बाइक

नई दिल्‍ली। ग्राहकों की सामूहिक मांग के आधार पर विक्रेताओं से सस्ते में उत्पाद उपलब्ध कराने का दावा करने वाली स्टार्ट-अप कंपनी शॉपमेट (Shopmate) ने इस साल छोटे शहरों में विस्तार का लक्ष्य रखा है। कंपनी ने इसके साथ ही अपने पोर्टल पर नए उत्पादों को भी शामिल करने की योजना बनाई है।

कंपनी फिलहाल राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, गाजियाबाद, नोएडा और फरीदाबाद में काम कर रही है तथा मोबाइल फोन, टैबलेट, मोटरसाइकिल तथा स्कूटर्स की पेशकश कर रही है। शॉपमेट की संस्थापक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) संभवी सिन्हा ने कहा, हमने इस साल मेरठ, लखनऊ, आगरा, चंडीगढ़ जैसे शहरों को जोड़ने का लक्ष्य रखा है। इसमें मेरठ में हमने सेवा देनी शुरू भी कर दी है। साथ ही हमारा दूसरे महानगरों में भी विस्तार का लक्ष्य है। संभवी ने कहा, इस वर्ष हमारी फ्रीज, कूलर, वॉशिंग मशीन जैसे घरों में इस्तेमाल होने वाले इलेक्ट्रॉनिक सामान को भी अपनी बिक्री पेशकश में शामिल करने की योजना है।

कंपनी के काम करने के तरीके के बारे में उन्होंने कहा कि शॉपमेट एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (ईओआई) यानी किसी ग्राहक के उत्पाद खरीदने की इच्छा की धारणा पर काम करती है। ग्राहक की इच्छा ईओआई के रूप में पोर्टल पर दर्ज होते ही कंपनी एक तरह की सभी रुचि को एकत्रित करती है तथा स्थानीय विक्रेताओं को संबंधित ग्राहकों के लिए पेशकश की कीमत मांगती है। संभवी ने कहा कि मांग अधिक होने पर विक्रेता कई बार कीमत में कमी लाते हैं और न्यूनतम मूल्य की पेशकश करते हैं। इससे जहां एक तरफ उपभोक्ताओं को कम कीमत पर उत्पाद मिल जाता है, वहीं विक्रेता थोक में उत्पाद बेच पाते हैं। कंपनी का दावा है कि इससे ग्राहकों को घर बैठे अच्छे मूल्य पर उत्पाद मिलना संभव होता है और उन्हें दुकानों के चक्कर नहीं लगाने पड़ते।

Write a comment
budget-2019