1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. नए ऑर्डर मिलने से जून माह में झूम उठा सर्विस सेक्‍टर, आठ माह के उच्च स्तर पर पहुंचा सर्विसेज PMI

नए ऑर्डर मिलने से जून माह में झूम उठा सर्विस सेक्‍टर, आठ माह के उच्च स्तर पर पहुंचा सर्विसेज PMI

नए ऑर्डर मिलने से जून माह के दौरान सर्विस सेक्‍टर की गतिविधियों में जोरदार उछाल आया है और इस क्षेत्र का PMI आंकड़ा 53.1 अंक पर पहुंच गया।

Manish Mishra [Updated:12 Jul 2017, 1:07 PM IST]
नए ऑर्डर मिलने से जून माह में झूम उठा सर्विस सेक्‍टर, आठ माह के उच्च स्तर पर पहुंचा सर्विसेज PMI- India TV Paisa
नए ऑर्डर मिलने से जून माह में झूम उठा सर्विस सेक्‍टर, आठ माह के उच्च स्तर पर पहुंचा सर्विसेज PMI

नई दिल्ली नए ऑर्डर मिलने से जून माह के दौरान सर्विस सेक्‍टर की गतिविधियों में जोरदार उछाल आया है और इस क्षेत्र का PMI आंकड़ा 53.1 अंक पर पहुंच गया। मासिक सर्वेक्षण के मुताबिक इस स्थिति को देखते हुए आने वाले महीनों में आर्थिक गतिविधियों में और तेजी आ सकती है। निक्केई इंडिया सर्विसेज पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (PMI) के मुताबिक सेवा क्षेत्र की गतिविधियां जून में बढ़कर 53.1 अंक पर पहुंच गई। मई में यह आंकड़ा 52.2 अंक था। इससे समूचे सेवा क्षेत्र में ठोस और बढ़ती गतिविधियों का संकेत मिलता है।

यह भी पढ़ें : सभी के लिए जरूरी नहीं है PAN को आधार से लिंक करना, आयकर विभाग ने इन लोगों को दी है छूट

आईएचएस मार्किट की अर्थशास्त्री और रिपोर्ट की लेखिका पालियाना डे लिमा ने इन ताजा आंकड़ों पर कहा कि मांग में सुधार और विपणन प्रयासों का परिणाम सामने आने से नये ऑर्डर बढ़ने से सेवा क्षेत्र की गतिविधियां बढ़ी हैं।

सर्विस सेक्‍टर का PMI 50 के आंकड़े को पार करता हुआ, इससे ऊपर रहा है। लगातार पांचवें महीने यह स्थिति रही है। इसके अलावा इस साल की पहली तिमाही के लिए सर्विस सेक्‍टर का औसत PMI 51.8 अंक रहा है। इससे भी तिमाही के दौरान सर्विस सेक्‍टर में ग्रोथ का संकेत मिलता है। लिमा ने कहा कि जून के आंकड़ों ने तिमाही औसत के कंपोजिट PMI 52.2 अंक में सबसे ज्यादा योगदान किया है। वित्‍त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही के बाद से यह सबसे अधिक है। इससे संकेत मिलता है कि 2017 के शुरुआती तीन माह की तुलना में GDP ग्रोथ में तीव्र उछाल की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें : सीमा पर तनाव को देखते हुए चीन ने कंपनियों को दी सलाह, भारत में करना पड़ सकता है विरोध का सामना

जून में मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर का PMI चार माह के न्यूनतम स्तर पर रहा है। भारत में चूंकि सर्विस सेक्‍टर का दायरा काफी व्यापक है इसलिए मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर में हल्की ग्रोथ से भी निजी क्षेत्र की उत्पादन वृद्धि आठ माह के शीर्ष पर पहुंच गई। इस लिहाज से निक्केई इंडिया कंपोजिट PMI आउटपुट जून में 8 माह के सर्वोच्च स्तर 52.7 अंक पर पहुंच गया। मई में यह 52.5 अंक रहा था।

Web Title: जून में 8 माह के उच्च स्तर पर पहुंचा सर्विसेज PMI
Write a comment