1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दुबारा ब्रेक्जिट जनमत संग्रह के लिए याचिकाओं की संख्या तीस लाख के पार

दुबारा ब्रेक्जिट जनमत संग्रह के लिए याचिकाओं की संख्या तीस लाख के पार

ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से बाहर आने (ब्रेक्जिट) के पक्ष में मतदान करने के विरोध में दुबारा जनमत संग्रह कराने के लिए ऑनलाइन याचिका का समर्थन बढता जा रहा है।

Sachin Chaturvedi [Published on:26 Jun 2016, 8:55 PM IST]
दुबारा ब्रेक्जिट जनमत संग्रह के लिए याचिकाओं की संख्या तीस लाख के पार- IndiaTV Paisa
दुबारा ब्रेक्जिट जनमत संग्रह के लिए याचिकाओं की संख्या तीस लाख के पार

लंदन। ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से बाहर आने (ब्रेक्जिट) के पक्ष में मतदान करने के विरोध में इस संबंध में दुबारा जनमत संग्रह कराने के लिए ब्रिटेन की संसद के समक्ष एक ऑनलाइन याचिका का समर्थन बढता जा रहा है। पिछले 48 घंटों में इस पर तीस लाख से ज्यादा लोग हस्ताक्षर कर चुके हैं।

ब्रिटेन की संसद की आधिकारिक वेबसाइट पर इस याचिका पर हस्ताक्षर करने वालों की संख्या 30,48,000 पहुंच गई थी। यह संख्या ब्रिटेन की संसद में जनता द्वारा निर्वाचित सदस्यों के सदन हाउस ऑफ कॉमन्स किसी मुद्दे पर बहस करवाने के लिए आवश्यक एक लाख मतों से कहीं अधिक है। कंजरवेटिव पार्टी के सांसद बेन हॉवेट ने ट्विटर पर इस बात की पुष्टि की कि इस याचिका पर मंगलवार को हाउस ऑफ कॉमन्स की याचिकाओं संबंधी प्रवर समिति विचार करेगी।

घबराने की जरूरत नहीं, ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था मजबूत है: व्यापार मंत्री

ब्रिटेन में बहुमत का फैसला यूरोपीय संघ छोड़ने यानी ब्रेक्जिट के पक्ष में जाने के करने के बाद पैदा अनिश्चितताओं के बीच व्यापार मंत्री साजिद जाविद ने कहा कि उनके देश की अर्थव्यवस्था का आधार मजबूत है और यह किसी भी लघु-अवधि के उतार-चढ़ाव को सहने में सक्षम है। उन्होंने कारोबार जगत से बे्रक्जिट को लेकर चिंता नहीं करने की अपील की।

कल बाजार खुलने पर निवेशकों द्वारा भारी बिकवाली किए जाने की संभावनाओं के बीच जाविद ने कहा कि यह समय कारोबारियों को आश्वासन दिलाने का है, उनके लिए मेरा संदेश है कि परिणाम आने के बाद के बाद किसी भी तरह घबराने की जरूरत नहीं है। कंजरवेटिव पार्टी के नेता जाविद पाकिस्तान मूल के है। उन्होंने कहा कि ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था का आधार मजबूत है और बाजार के इस तरह की लघु अवधि के उतार-चढ़ाव को झेलने में वह सक्षम है।

यह भी पढ़ें- Brexit Impact: सोना हुआ 600 रुपए महंगा, 2016 के अंत तक कीमत 33,500 रुपए पहुंचने का अनुमान

यह भी पढ़ें- Finally It’s Brexit: यूरोपियन यूनियन से अलग हुआ ब्रिटेन, 52 फीसदी लोगों ने दिया ब्रेक्जिट के पक्ष में वोट

Web Title: दुबारा ब्रेक्जिट जनमत संग्रह पर याचिकाओं की संख्या तीस लाख के पार
Write a comment