1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. सऊदी अरब के 6 अरब डॉलर के बेलआउट पैकेज से मिली बड़ी राहत, इसके बदले इमरान खान करेंगे ये काम

सऊदी अरब के 6 अरब डॉलर के बेलआउट पैकेज से मिली बड़ी राहत, इसके बदले इमरान खान करेंगे ये काम

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सऊदी अरब के 6 अरब डॉलर के बेलआउट पैकेज को देश के लिए बड़ी राहत बताया है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: October 25, 2018 13:15 IST
Pak PM Imran Khan- India TV Paisa
Photo:PAK PM IMRAN KHAN

Pak PM Imran Khan

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सऊदी अरब के 6 अरब डॉलर के बेलआउट पैकेज को देश के लिए बड़ी राहत बताया है। मंगलवार को इमरान खान ने रियाद में सऊदी किंग सलमान-बिन-अब्‍दुलाजीज से मुलाकात की, जिसके बाद सऊदी सरकार ने पाकिस्‍तान को एक साल की अवधि के लिए 3 अरब डॉलर का विदेशी मुद्रा कर्ज और तेल आयात करने के लिए अतिरिक्‍त 3 अरब डॉलर की मदद देने की घोषणा की।

इमरान खान ने वतन वापसी के बाद कहा कि सऊदी अरब और यमन के बीच चल रहे संघर्ष को सुलझाने के लिए वह मध्यस्थता करेंगे और इसके लिए वह प्रतिबद्ध हैं। देश के वित्तीय संकट में धकेलने के लिए पूर्ववर्ती दोनों सरकारों पर आरोप लगाते हुए इरान ने देश के नाम अपने संबोधन में कहा कि विपक्षी दलों की गठबंधन के गठन की योजना का उद्देश्य सरकार पर दबाव बनाना था ताकि राष्ट्रीय सुलह अध्यादेश (एनआरओ) जैसे समझौते के तहत उन्हें कुछ राहत मिल सके।

इमरान ने सऊदी अरब से लौटने के बाद कहा कि यह ध्यान में रखने की बात है कि परवेज मुशर्रफ की तरह मैं किसी दबाव में नहीं आऊंगा। उन्‍होंने कहा कि हम कठिन समय का सामना कर रहे हैं। हम पर भारी कर्ज को चुकाने का बहुत दबाव है। लेकिन हम सऊदी अरब का धन्‍यवाद करते हैं कि उन्‍होंने इस मुश्किल घड़ी में हमारी मदद की।

इमरान खान ने बताया कि उनकी सरकार और अधिक वित्‍तीय मदद के लिए अन्‍य दो मित्र राष्‍ट्रों के साथ संपर्क में है। हालांकि उन्‍होंने उन देशों के नाम नहीं बताए। खान इस माह के अंत में मलेशिया और 3 नवंबर को चीन की यात्रा पर जाने वाले हैं, ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि इन दोनों देशों से भी मदद मिल सकती है।

इमरान खान ने कहा कि लोगों को चिंता करने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि मुश्किल समय निकल जाएगा और पाकिस्‍तान एक बार फ‍िर मजबूत और खुशहाल देश के रूप में उभरकर सामने आएगा। उन्‍होंने कहा कि सऊदी मदद से पाकिस्‍तान की मोलभाव करने की क्षमता में इजाफा हुआ है और अब यदि हम आईएमएफ के पास कर्ज मांगने जाते हैं तो हम बेहतर मोलभाव कर पाएंगे।  

2008 में पाकिस्‍तान पर 6,000 अरब रुपए का कर्ज था, जो 2018 में बढ़कर 30,000 अरब रुपए पर पहुंच गया। पाकिस्‍तान मुस्लिम लीग-नवाज और पाकिस्‍तान पीपुल्‍स पार्टी ने इमरान खान सरकार से पूछा है कि वह सऊदी अरब से मिले बेलआउट पैकेज की शर्तों का खुलासा करें और यह बताएं कि किन शर्तों पर सऊदी अरब ने यह मदद दी है।

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban