1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. पाकिस्‍तान को जवाब देने के लिए टी एसोसिएशन ने की पहल, चाय कारोबार बंद करने को तैयार

पाकिस्‍तान को जवाब देने के लिए टी एसोसिएशन ने की पहल, चाय कारोबार बंद करने को तैयार

जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी हमले के मद्देनजर इंडियन टी एसोसिएशन सरकार के कहने पर पाकिस्तान के साथ अपना कारोबार पूरी तरह से बंद करने के लिए तैयार है।

Abhishek Shrivastava [Published on:20 Sep 2016, 3:57 PM IST]
पाकिस्‍तान को जवाब देने के लिए टी एसोसिएशन ने की पहल, चाय कारोबार बंद करने को तैयार- India TV Paisa
पाकिस्‍तान को जवाब देने के लिए टी एसोसिएशन ने की पहल, चाय कारोबार बंद करने को तैयार

कोलकाता। जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी हमले के मद्देनजर चाय उत्पादकों के शीर्ष संगठन इंडियन टी एसोसिएशन (आईटीए) ने आज कहा है कि अगर सरकार कहे तो वह पाकिस्तान के साथ अपना कारोबार पूरी तरह से बंद करने के लिए तैयार हैं।

आईटीए के चेयरमैन आजम मेनम ने कहा, कश्मीर में आतंकवादी हमले को देखते हुए अगर सरकार कहती है तो आईटीए पाकिस्तान के साथ चाय व्यापार निलंबित करने को तैयार है। उन्होंने कहा कि जहां तक चाय का सवाल है, पाकिस्तान कीमत कम होने पर ही यहां से चाय लेता है। ऐसे में पाकिस्तान के साथ व्यापार निलंबित करने से निर्यात पर कोई खास असर नहीं होगा। मेनम ने कहा, मुझे लगता है कि टी बोर्ड इस बारे में दिशा प्रदान करेगा।

कुल 23 करोड़ किलो चाय के निर्यात में पाकिस्तान की हिस्सेदारी केवल 1.5 से 1.8 करोड़ किलो है। उन्होंने कहा, पाकिस्तान सामान्य तौर पर श्रीलंका और केन्या से चाय खरीदता है। वह यहां से तभी चाय खरीदता है, जब कीमत कम होती है। देश से चाय का निर्यात मुख्य रूप से रूस, कजाकिस्तान, अमेरिका, चीन, ईरान, मिस्र और लातिन अमेरिकी देशों को होता है।  मेनम ने कहा कि पाकिस्‍तान द्वारा आयात की गई 80 फीसदी चाय दक्षिण भारतीय किस्‍म की होती है। शेष 20 फीसदी चाय उत्‍तर भारत की होती है।

Web Title: टी एसोसिएशन पाकिस्‍तान के साथ चाय कारोबार बंद करने के लिए तैयार
Write a comment