1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Idea-Vodafone के बाद Jio से टक्कर के लिए ये 4 कंपनियां भी आएंगी एक साथ, मर्जर के लिए बातचीत हुई शुरू

Idea-Vodafone के बाद Jio से टक्कर के लिए ये 4 कंपनियां भी आएंगी एक साथ, मर्जर के लिए बातचीत हुई शुरू

Jio से टक्कर के लिए Idea और Vodafone मर्जर के बाद रिलायंस कम्युनिकेशंस और टाटा ग्रुप के बीच एक संभावित विलय को लेकर भी बातचीत शुरू हो गई है।

Ankit Tyagi Ankit Tyagi
Updated on: February 20, 2017 11:09 IST
Idea-Vodafone के बाद Jio से टक्कर के लिए ये 4 कंपनियां भी आएंगी एक साथ, मर्जर के लिए बातचीत हुई शुरू- India TV Paisa
Idea-Vodafone के बाद Jio से टक्कर के लिए ये 4 कंपनियां भी आएंगी एक साथ, मर्जर के लिए बातचीत हुई शुरू

नई दिल्ली। देश के टेलीकॉम सेक्टर में इन दिनों भारी उठा-पठक जारी है। Idea और Vodafone के मर्जर की खबर के बाद रिलायंस कम्युनिकेशंस और टाटा ग्रुप के बीच एक संभावित विलय को लेकर भी बातचीत शुरू हो गई है। माना जा रहा है कि टाटा टेलिसर्विसेज, आरकॉम-एयरसेल और एमटीएस का हिस्सा बन सकती है। अगर यह मर्जर होता है तो इसके बाद बनने वाली टेलिकॉम कंपनी देश की तीसरी बड़ी ताकत होगी।

Vodafone-Idea के मर्जर की बातचीत अंतिम दौर में, 25 फरवरी को हो सकता है ऐलान

रिलायंस जियो की टक्कर में एकजुट हो रही है कंपनियां 

  • रिलायंस जियो के मार्केट में आने के बाद टेलिकॉम इंडस्ट्री में कंपनियां एकजुट हो जियो को टक्कर देने की कोशिश में हैं। टाटा टेलीसर्विसेज और आरकॉम के बीच संभावित डील भी उसी का हिस्सा है।

शुरू हुई बातचीत

  • मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रिलायंस एडीए ग्रुप के चेयरमैन अनिल अंबानी ने टाटा संस के नवनियुक्त चेयरमैन एन चंद्रशेखरन से इस मुद्दे पर बातचीत के लिए संपर्क किया है।
  • एक सूत्र ने बताया, अभी तक कुछ भी फाइनल नहीं हुआ है। टाटा टेली पर 30,000 करोड़ का कर्ज इस सौदे की राह में एक बड़ी बाधा है। उन्होंने बताया कि इस डील के लिए एनटीटी डोकोमो के टाटा टेली से निकलने के कानूनी विवाद को भी सुलझाना जरूरी है।
  • टाटा टेली, टाटा संस और आरकॉम ने अभी तक कोई टिप्पणी नहीं की है।

यह भी पढ़े: टेक महिंद्रा को उम्‍मीद, वोडाफोन-आइडिया के विलय से मिलेगा कंपनी को ज्‍यादा कारोबार

मर्जर में है कई अड़चने

  • आरकॉम को लोन देने वाले एसबीआई, एयरसेल और टाटा टेलिसर्विसेज इस कंसॉलिडेशन के लिए जोर डाल रहे हैं।
  • एक्सपर्ट्स का कहना है कि आरकॉम-एयरसेल के साथ मर्जर के लिए टाटा टेली का कर्ज बड़ा इशू होगा।
  • दरअसल, आरकॉम-एयरसेल पर भी उतना ही कर्ज है।
  • टाटा संस अपनी टेलिकॉम कंपनी की बैलेंस शीट क्लीन करने की कोशिश कर रही है।
  • टाटा ग्रुप की होल्डिंग कंपनी अपनी टेलिकॉम यूनिट की बैलेंस शीट को क्लीन करने के लिए उसमें 10,000 करोड़ रुपए का निवेश करने की योजना बना रहा है।
  • टाटा टेली ने ऑथराइज्ड कैपिटल को दोगुना करके 40,000 करने की भी मंजूरी ली हुई है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि इससे संकेत मिलता है कि कंपनी में और पूंजी लगाई जा सकती है।
  • हालांकि, टाटा ग्रुप के एग्जिक्युटिव्स ने बताया कि कंपनी ने बोर्ड रिजॉलूशन के जरिये बिजनस बेचने या धीरे-धीरे कामकाज बंद करने की पहले से ही मंजूरी ली हुई है।
  • उन्होंने कहा कि अगर आरकॉम-एयरसेल के साथ मर्जर होता भी है तो टाटा ग्रुप उसके बाद बनने वाली कंपनी में कोई हिस्सेदारी नहीं रखना चाहेगा। अभी टेलीकॉम मार्केट में कई कंपनियां हैं और मुकाबला बहुत ज्यादा बढ़ गया है। भारती एयरटेल इसमें मार्केट लीडर है।

यह भी पढ़े: Reliance Jio effect: Idea को 10 साल में पहली बार लगा ये बड़ा झटका, हुआ 385 करोड़ रुपए का घाटा

टाटा टेली पर है भारी कर्ज

  • टाटा टेली के करीब 5.3 करोड़ ग्राहक हैं। अभी सब्सक्राइबर्स की संख्या के लिहाज से यह देश की 12वीं बड़ी टेलिकॉम कंपनी है।
  • जियो की एंट्री से पहले ही टाटा टेली को दिक्कत हो रही थी।
  • कंपनी को घाटा हो रहा था और कर्ज में बढ़ोतरी हो रही थी।
  • टाटा ग्रुप कुछ समय से इसे बेचने के लिए खरीदार की तलाश में है।
  • उसने सौदे के लिए वोडाफोन से बात भी की थी, लेकिन भारी कर्ज के चलते ऐसा नहीं हो पाया था।

यह भी पढ़ें : Jio को टक्कर में Airtel के बाद Idea ने लॉन्च किया नया अनलिमिटेड FREE कॉल और इन्टरनेट डेटा प्लान

मर्जर के बाद बनेगी देश की तीसरी सबसे बड़ी कंपनी

  • अगर टाटा आरकॉम, एयरसेल और एमटीएस को जॉइन करता है तो इससे बनने वाली कंपनी के पास 26 करोड़ सब्सक्राइबर्स होंगे।
  • वहीं, मार्केट लीडर एयरटेल के पास अभी 26.6 करोड़ ग्राहक हैं।
  • वोडाफोन के पास 20.5 करोड़ और आइडिया के पास 19 करोड़ कस्टमर्स हैं।
  • इन दोनों का मर्जर होने के बाद देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी सामने आएगी, जिसके पास 39.5 करोड़ ग्राहक होंगे।
  • टाटा टेली, आरकॉम, एयरसेल और एमटीएस का रेवेन्यू मार्केट शेयर 18 पर्सेंट से अधिक होगा, जबकि एयरटेल के लिए यह 31 पर्सेंट और वोडाफोन-आइडिया के लिए 42 पर्सेंट होगा।
  • यह जानकारी क्रेडिट सुइस ने एक रिपोर्ट में दी है। वहीं, जियो के पास दिसंबर के अंत तक 7.2 करोड़ ग्राहक थे, लेकिन इसका कोई रेवेन्यू मार्केट शेयर नहीं है क्योंकि अब तक कंपनी ग्राहकों को फ्री में सेवा दे रही है।

यह भी पढ़ें : आइडिया सेल्‍यूलर बनी देश की बेहतरीन टेलीकॉम कंपनी, नहीं होती है एक भी कॉल ड्रॉप

Write a comment
bigg-boss-13