1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. RBI Decision: लगातार दूसरी बार बढ़े Policy Rates, होमलोन और कार लोन महंगा होने की आशंका

RBI Decision: लगातार दूसरी बार बढ़े Policy Rates, होमलोन और कार लोन महंगा होने की आशंका Read In English

RBI ने रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी का ऐलान किया है, इस बढ़ोतरी के बाद अब रेपो रेट बढ़कर 6.50 प्रतिशत हो गया है।

Manoj Kumar Manoj Kumar
Updated on: August 01, 2018 16:02 IST
RBI Interest Rate Decision- India TV Paisa

RBI Interest Rate Decision

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने बुधवार को फिर से पॉलिसी दरों मे बढ़ोतरी की घोषणा की है। बैंक ने रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी का ऐलान किया है, इस  बढ़ोतरी के बाद अब रेपो रेट बढ़कर 6.50 प्रतिशत हो गया है। लगातार दूसरी पॉलिसी में बैंक ने पॉलिसी दरों को बढ़ाया है, इससे पहले जून की पॉलिसी में भी 25 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की गई थी। रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी के बाद अब रिवर्स रेपो रेट बढ़कर 6.25 प्रतिशत और MSF 6.75 प्रतिशत हो गया है।

कर्ज होगा महंगा

पॉलिसी दरों को लेकर बुधवार को RBI के फैसले के बाद अब कर्ज महंगा होने की आशंका बढ़ गई है, RBI के इस फैसले के बाद बैंक भी कर्ज और डिपॉजिट की दरों बढ़ा सकते हैं। देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने RBI की पॉलिसी से पहले ही लंबी अवधि के लिए डिपॉजिट की दरों को बढ़ा दिया है। ऐसी आशंका है कि बैंक अब कर्ज की दरों को भी बढ़ा सकता है, अन्य बैंक भी कर्ज महंगा कर सकते हैं।

SBI ने MCLR में बदलाव नहीं किया

RBI पॉलिसी से पहले ही SBI ने अगस्त के लिए MCLR की दरें घोषित कर दी हैं और जुलाई के मुकाबले अगस्त में इन दरों में किसी तरह का बदलाव नहीं हुआ है, जुलाई से पहले जून में भी किसी तरह का बदलाव नहीं किया गया था। ऐसे में RBI के रेपो रेट को देखते हुए SBI अगर MCLR में बढ़ोतरी करता है तो उसे अब सितंबर के लिए करनी होगी। SBI से पहले PNB ने भी अगस्त के लिए MCLR दरों में बदलाव नहीं किया है। जिन बैंकों के MCLR में बदलाव नहीं हुआ है उनके होमलोन ग्राहकों के लिए कम से कम 1 महीने के लिए लोन की दरें नहीं बदलेंगी।  

Write a comment