1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. RBI ने फर्जी e-mail से लोगों को किया आगाह, कहा बैंक नहीं जारी करता ऐसे मैसेज

RBI ने फर्जी e-mail से लोगों को किया आगाह, कहा बैंक नहीं जारी करता ऐसे मैसेज

अगर आपको भी भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की तरफ से लॉटरी लगने, ईनाम जीतने या फिर विदेशों से विदेशी करेंसी पाने के लिए किसी तरह का Email आया है तो सावधान रहें और उसका जवाब नहीं दे क्योंकि RBI इस तरह से Email मैसेज किसी को जारी नहीं करता है, बुधवार को खुद RBI की तरफ से प्रेस रिलीज जारी कर इसको लेकर सावधान रहने के लिए आगाह किया गया है।

Manoj Kumar Manoj Kumar
Published on: July 05, 2018 9:14 IST
RBI Cautions about Fictitious Emails- India TV Paisa

RBI Cautions about Fictitious Emails

नई दिल्ली। अगर आपको भी भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की तरफ से लॉटरी लगने, ईनाम जीतने या फिर विदेशों से विदेशी करेंसी पाने के लिए किसी तरह का Email आया है तो सावधान रहें और उसका जवाब नहीं दे क्योंकि RBI इस तरह से Email मैसेज किसी को जारी नहीं करता है, बुधवार को खुद RBI की तरफ से प्रेस रिलीज जारी कर इसको लेकर सावधान रहने के लिए आगाह किया गया है।

RBI की तरफ से कहा गया है कि बैंक अपने जन जागरूकता अभियान के तहत समय समय पर लोगों को इस तरह की धोखाधड़ी से बचने के लिए आगाह करता रहता है और बुधवार को एक बार फिर से इसको लेकर आगाह किया जा रहा है। RBI की तरफ से कहा गया है कि सामान्य तौर पर धोखाधड़ी करने वाले लोग Email भेजकर लोगों को ईनाम जीतने की झूठी खबर देते हैं और उस ईनाम को आपतक पहुंचाने के लिए करेंसी प्रोसेसिंग फीस, फोरेन करेंसी कनवर्सन फीस या प्री पेमेंट के लिए मांग करते हैं जिससे बचना जरूरी है।

RBI ने आगाह किया है कि इस तरह की धोखाधड़ी से बचें क्योंकि बैंक के पास किसी भी व्यक्ति का खाता अपने पास नहीं रखता है, RBI की तरफ से कोई भी व्यक्ति लॉटरी जीतने या विदेशों से पैसा आने की जानकारी नहीं देता और न ही किसी तरह की Email या SMS भेजता है। रिजर्व बैंक ने कहा है कि कई फर्जी वेबसाइट्स हैं जो ‘RBI’ ‘Reserve Bank’ जैसे शब्दों का इस्तेमाल करती हैं और बैंक का फर्जी लोगो लगाकर लोगों को Email भेजती हैं, जबकि बैंक की तरफ से इस तरह का कोई भी संदेश या Email नहीं भेजा जाता। केंद्रीय बैंक ने जनता से अपील की है कि वह RBI के नाम पर भेजी जा रही इस तरह की किसी भी मेल का उत्तर नहीं दें।

RBI Cautions about Fictitious Emails

Write a comment