1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. PNB scam case: नीरव मोदी ने जमानत देने के लिए लंदन में रॉयल कोर्ट ऑफ जस्टिस से लगाई गुहार

PNB scam case: नीरव मोदी ने जमानत देने के लिए लंदन में रॉयल कोर्ट ऑफ जस्टिस से लगाई गुहार

पीएनबी घोटाला मामला में भारत छोड़कर भागे नीरव मोदी ने जमानत देने के लिए लंदन में रॉयल कोर्ट ऑफ जस्टिस से गुहार लगाई है। इस मामले में नीरव मोदी की जमानत अर्जी पर सुनवाई चल कोर्ट में जारी है। नीरव मोदी पर पीएनबी के साथ दो अरब डॉलर तक की धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में आरोपी है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: June 11, 2019 19:39 IST
PNB scam case: Nirav Modi pleads to Royal Courts of...- India TV Paisa

PNB scam case: Nirav Modi pleads to Royal Courts of Justice in London to grant him bail ahead of trial

पीएनबी घोटाला मामला में भारत छोड़कर भागे नीरव मोदी ने ट्रायल से पहले जमानत देने के लिए लंदन में रॉयल कोर्ट ऑफ जस्टिस से गुहार लगाई है। इस मामले में नीरव मोदी की जमानत अर्जी पर सुनवाई चल कोर्ट में जारी है। नीरव मोदी पर पीएनबी के साथ दो अरब डॉलर तक की धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में आरोपी है। इस मामले में मुकदमा दर्ज होने के बाद सीबीआई ने नीरव की तलाश शुरू की थी, लेकिन काफी दिनों बाद पता चला कि वह लंदन में है। नीरव ने मुकदमा दर्ज होने से पहले ही दिसंबर 2017 में देश छोड़ दिया था।

अगर नीवर मोदी को ब्रिटेन भारत को सौंप देता है तो उसे मुम्बई की आर्थर रोड जेल 'बैरक संख्या-12' में रखने की तैयारी पूरी कर ली गई है। गृह विभाग के एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। अधिकारी ने कहा कि जेल विभाग ने पिछले सप्ताह राज्य के गृह विभाग को आर्थर रोड जेल की स्थिति और नीरव मोदी के बैरक में रखे जाने की सूरत में वहां मुहैया कराई जा सकने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी दी है।

उन्होंने कहा कि केन्द्र ने भी हाल ही में राज्य सरकार से यह जानकारी मांगी थी। मोदी को 19 मार्च को लंदन में स्कॉटलैंड यार्ड के अधिकारियों ने गिरफ्तार कर लिया था। फिलहाल उसे भारत को प्रत्यर्पित करने की तैयारी चल रही है। ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत ने पिछले महीने मोदी की जमानत खारिज कर दी थी। वह इंग्लैंड की एक जेल में बंद है। अधिकारी ने बताया कि राज्य सरकार ने हाल ही में पत्र लिखकर केंद्र को उन सुविधाओं के बारे में आश्वासन दिया है जो जेल में उपलब्ध कराई जा सकती हैं।

राज्य सरकार ने पिछले साल शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण के संबंध में केंद्र को ऐसा ही आश्वासन पत्र भेजा था। 9,000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी और धनशोधन केआरोप में भारत में वांछित माल्या फिलहाल ब्रिटेन में है। पत्र के अनुसार अगर मोदी को प्रत्यर्पित किया गया तो उसे आर्थर रोड जेल की बैरक संख्या 12 के दो में से एक कमरे रखा जाएगा।उन्होंने कहा कि फिलहाल एक कमरे में तीन कैदियों को रखा गया है और एक कमरा खाली है।

उन्होंने बताया कि अगर मोदी और माल्या को प्रत्यर्पित किया गया तो उन्हें इसी कमरे में रखा जाएगा, जिसमें तीन पंखे, छह ट्यूब लाइट और दो खिड़कियां हैं। अधिकारी ने कहा कि जेल विभाग ने यह आश्वासन भी दिया कि मोदी को एक ऐसे सेल में रखा जाएगा, जहां अन्य कैदियों की संख्या तीन से अधिक नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें इस बैरक में रखा गया तो उन्हें तीन वर्ग मीटर का निजी स्थान मिल सकता है। इसके अलावा उन्हें एक सूती चटाई, तकिया, बेडशीट और कंबल दिया जाएगा। 

अधिकारी ने कहा कि उन्हें व्यायाम और मनोरंजन के लिये उचित समय के लिये सेल से बाहर आने की अनुमति दी जाएगी, जो एक दिन में एक घंटे से ज्यादा नहीं होगी। जेल विभाग ने यह भी आश्वासन दिया कि उन्हें पर्याप्त रोशनी, वेंटिलेशन और निजी सामान के लिए पर्याप्त भंडारण मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि मोदी को प्रतिदिन स्वच्छ पेयजल, रात-दिन चिकित्सा सुविधाएं मिलेंगी। साथ ही शौचालय और धोने की सुविधाएं भी दी जाएंगी। उन्होंने कहा कि ऐसी सभी सुविधाएं बिना किसी भेदभाव के दी जाएंगी। अधिकारी ने कहा, "चूंकि बैरक अत्यधिक सुरक्षित है और वहां तैनात पुलिसकर्मियों को किसी भी स्थिति को संभालने के लिए अच्छी तरह से प्रशिक्षित किया गया है, लिहाजा वहांयातना या गलत व्यवहार की कोई घटना नहीं हुई है।"

Write a comment