1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Smart cities: PM मोदी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट 'स्‍मार्ट सिटी' को फ्रांस से मिली 2 अरब यूरो की मदद

Smart cities: PM मोदी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट 'स्‍मार्ट सिटी' को फ्रांस से मिली 2 अरब यूरो की मदद

PM मोदी के स्‍मार्ट सिटी प्रोजेक्‍ट में जर्मनी द्वारा अपनी रुचि दिखाने के बाद फ्रांस ने इस प्रोजेक्‍ट के लिए 2 अरब यूरो की मदद देने की घोषणा की है।

Shubham Shankdhar Shubham Shankdhar
Updated on: November 05, 2015 16:49 IST
Smart cities: PM मोदी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट ‘स्‍मार्ट सिटी’ को फ्रांस से मिली 2 अरब यूरो की मदद- India TV Paisa
Smart cities: PM मोदी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट ‘स्‍मार्ट सिटी’ को फ्रांस से मिली 2 अरब यूरो की मदद

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्‍मार्ट सिटी प्रोजेक्‍ट को दुनियाभर से समर्थन मिल रहा है। PM मोदी के इस महत्‍वाकांक्षी प्रोजेक्‍ट में जर्मनी द्वारा अपनी रुचि दिखाने के बाद फ्रांस ने इस प्रोजेक्‍ट के लिए 2 अरब यूरो की मदद देने की घोषणा की है। फ्रांस का विशेष फोकस चंडीगढ़, नागपुर और पुडुचेरी पर है।

फि‍क्‍की, भारत में फ्रांस दूतावास और शहरी विकास मंत्रालय द्वारा आयोजित टूवर्ड्स स्‍मार्ट एंड ससटैनेबल सिटीज नामक सेमिनार में भारत में फ्रांस के राजदूत फ्रानकोस रिचियर ने स्‍मार्ट सिटी प्रोजेक्‍ट को 2 अरब यूरो की मदद देने की घोषणा की। उन्‍होंने आगे कहा कि बेंगलुरु मेट्रो के विस्‍तार के लिए भी फ्रांस अतिरिक्‍त 20 करोड़ यूरो की मदद देने पर विचार कर रहा है। फ्रांस के राजदूत ने कहा कि इस साल पीएम मोदी जब फ्रांस के दौरे पर गए थे, तब फ्रांस ने 60 करोड़ यूरो का निवेश भारत में करने का वादा किया था। स्‍मार्ट सिटी के अलावा फ्रांस सतत विकास और रिन्‍यूएबल एनर्जी जैसे प्रोजेक्‍ट पर भी अपना फोकस केंद्रित कर रहा है।

ये भी पढ़ें – अमरावती: आंध्र की नई राजधानी, देश की बनेगी पहली स्‍मार्ट सिटी कैपिटल

औद्योगिक संगठन फि‍क्‍की की प्रेसिडेंट ज्‍योत्‍सना सूरी ने कहा कि फ्रांस की यह मदद वाकई सराहनीय है और इससे हमें शहरों की सही से प्‍लानिंग और उनका विकास करने में काफी मदद मिलेगी। उन्‍होंने कहा कि भारतीय प्राइवेट सेक्‍टर भी स्‍मार्ट सिटी के विकास में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभा रहा है और इंडस्‍ट्री सरकार से समर्थन चाहती है कि वह प्राइवेट सेक्‍टर को इस कार्यक्रम में सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए प्रोत्‍साहित करे। इससे यह बात सुनिश्चित होती है कि जर्मनी और फ्रांस भारत में निवेश के लिए अपनी रुचि दिखा रहे हैं।

Write a comment