1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Petrol-Diesel: लगातार तीसरे दिन बढ़े दाम, 3 दिन में पेट्रोल 43 पैसे और डीजल 38 पैसे महंगा

Petrol-Diesel: लगातार तीसरे दिन बढ़े दाम, 3 दिन में पेट्रोल 43 पैसे और डीजल 38 पैसे महंगा

लगभग 5 हफ्ते तक पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती या स्थिरता के बाद तेल कंपनियों ने इस हफ्ते फिर से दाम बढ़ाना शुरू किए हैं और शनिवार को लगातार तीसरे दिन दाम बढ़ाए गए हैं। लगातार 3 दिन तक पेट्रोल और डीजल की कीमतों में जो बढ़ोतरी हुई है उसके बाद दिल्ली में पेट्रोल 43 पैसे और डीजल 38 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया है।

Manoj Kumar Manoj Kumar
Updated on: July 07, 2018 10:30 IST
Petrol and Diesel Price rose for third day on Saturday- India TV Paisa

Petrol and Diesel Price rose for third day on Saturday

नई दिल्ली। लगभग 5 हफ्ते तक पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती या स्थिरता के बाद तेल कंपनियों ने इस हफ्ते फिर से दाम बढ़ाना शुरू किए हैं और शनिवार को लगातार तीसरे दिन दाम बढ़ाए गए हैं। लगातार 3 दिन तक पेट्रोल और डीजल की कीमतों में जो बढ़ोतरी हुई है उसके बाद दिल्ली में पेट्रोल 43 पैसे और डीजल 38 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया है।

शनिवार को दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल 13 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया है जबकि डीजल की कीमतों में 10 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। इस बढ़ोतरी के बाद अब दिल्ली में पेट्रोल का दाम 75.98 रुपए, कोलकाता में 78.66 रुपए, मुंबई में 83.37 रुपए और चेन्नई में 78.85 रुपए प्रति लीटर हो गया है। डीजल की बात करें तो शनिवार को दिल्ली में इसका दाम 67.76 रुपए, कोलकाता में 70.31 रुपए, मुंबई में 71.90 रुपए और चेन्नई में 71.52 रुपए प्रति लीटर कर दिया गया है।

इस हफ्ते अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का भाव करीब 43 हफ्ते के ऊपरी स्तर तक गया है, अमेरिकी कच्चे तेल ने 75 डॉलर प्रति बैरल के स्तर को पार किया है जो नवंबर 2014 के बाद सबसे ऊपरी स्तर है, ब्रेंट क्रूड का दाम भी इस हफ्ते 80 डॉलर प्रति बैरल के करीब पहुंचा है, फिलहाल अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड का भाव 77 डॉलर प्रति बैरल के करीब और अमेरिकी कच्चे तेल का दाम 74 डॉलर प्रति बैरल के करीब है।

कच्चे तेल का भाव बढ़ने के साथ घरेलू स्तर पर डॉलर के मुकाबले रुपया भी कमजोर हुआ है, डॉलर का भाव 69 रुपए के करीब बना हुआ है, इस हफ्ते डॉलर के मुकाबले रुपया 68.87 के स्तर पर बंद हुआ है। महंगे क्रूड और महंगे डॉलर की वजह से तेल कंपनियों की कच्चा तेल आयात करने के लिए लागत बढ़ी है और इस लागत को ग्राहकों से वसूलने के लिए कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाना शुरू कर दिए हैं।

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban