1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. पेट्रोल और डीजल की कीमतों में हो सकती है बढ़ोतरी, कच्चे तेल का भाव 8 हफ्ते की ऊंचाई पर

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में हो सकती है बढ़ोतरी, कच्चे तेल का भाव 8 हफ्ते की ऊंचाई पर

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है जिस वजह से तेल कंपनियां घरेलू बाजार में पेट्रोल और डीजल के भाव बढ़ा सकती हैं

Manoj Kumar [Updated:27 Jul 2017, 4:52 PM IST]
पेट्रोल और डीजल की कीमतों में हो सकती है बढ़ोतरी, कच्चे तेल का भाव 8 हफ्ते की ऊंचाई पर- India TV Paisa
पेट्रोल और डीजल की कीमतों में हो सकती है बढ़ोतरी, कच्चे तेल का भाव 8 हफ्ते की ऊंचाई पर

नई दिल्ली। पेट्रोल और डीजल की कीमतें एक बार फिर से आपकी जेब पर भारी पड़ सकता हैं। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है जिस वजह से तेल कंपनियां घरेलू बाजार में पेट्रोल और डीजल के भाव बढ़ा सकती हैं। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का भाव 8 हफ्ते के ऊपरी स्तर तक पहुंच गया है। गुरुवार को इसका भाव 48.93 डॉलर प्रति बैरल के ऊपरी स्तर तक गया जो पहली जून के बाद सबसे अधिक भाव है।

लगातार बढ़े हैं कच्चे तेल के दाम

16 जून से तेल कंपनियां अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव के आधार पर रोजाना पेट्रोल और डीजल के भाव तय रही हैं। 16 जून से जब रोजाना पेट्रोल डीजल के भाव को तय करने का नियम लागू हुआ था तो अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का भाव 45 डॉलर के करीब था लेकिन अब 49 डॉलर के करीब हो गया है। ऐसे में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी होने की आशंका बढ़ गई है।

गुरुवार को पेट्रोल और डीजल का भाव

गुरुवार को दिल्ली में पेट्रोल का भाव 64.59 रुपए, कोलकाता में 67.92 रुपए, मुंबई में 73.92 रुपए और चेन्नई में 67.07 रुपए प्रति लीटर तय किया गया है। वहीं डीजल की बात करें तो गुरुवार को दिल्ली में 54.94 रुपए, कोलकाता में 57.69 रुपए, मुंबई में 58.49 रुपए और चेन्नई में 57.93 रुपए तय हुआ है।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव में गुरुवार को आई बढ़ोतरी के पीछे अमेरिका में घटा हुआ स्टॉक वजह माना जा रहा है। अमेरिकी ऊर्जा विभाग के मुताबिक 21 जुलाई को खत्म हफ्ते के दौरान अमेरिका में कच्चे तेल के स्टॉक में 72 लाख बैरल की कमी आई है।

Web Title: पेट्रोल और डीजल की कीमतों में हो सकती है बढ़ोतरी
Write a comment