1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 90 लाख से ज्यादा ट्रकों की हड़ताल आज से शुरू, डीजल कीमतों में रोजाना बदलाव और GST की जटिलता का भी विरोध

90 लाख से ज्यादा ट्रकों की हड़ताल आज से शुरू, डीजल कीमतों में रोजाना बदलाव और GST की जटिलता का भी विरोध

गुड्स एंड सर्विस टैक्स की वजह से पैदा हुई दिक्कतें और डीजल की कीमतों में रोजाना बदलाव के खिलाफ ट्रक ऑपरेटर्स आज से हड़ताल पर हैं

Manoj Kumar Manoj Kumar
Updated on: October 09, 2017 9:35 IST
90 लाख से ज्यादा ट्रकों की हड़ताल आज से शुरू, डीजल कीमतों में रोजाना बदलाव और GST की जटिलता का भी विरोध- India TV Paisa
90 लाख से ज्यादा ट्रकों की हड़ताल आज से शुरू, डीजल कीमतों में रोजाना बदलाव और GST की जटिलता का भी विरोध

नई दिल्ली। गुड्स एंड सर्विस टैक्स की वजह से पैदा हुई दिक्कतें और डीजल की कीमतों में रोजाना बदलाव के खिलाफ ट्रक ऑपरेटर्स आज से हड़ताल पर हैं। हड़ताल का आहवान 93 लाख ट्रकों के संचालन का दावा करने वाली ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (AIMTC) ने किया है, दूसरी संस्था ऑल इंडिया ट्रांसपोर्टर्स वेलफेयर एसोसिएशन (AITWA) भी हड़ताल को सपोर्ट कर रही है।

AIMTC के अध्यक्ष एस के मित्तल के मुताबिक ट्रांसपोर्ट सेक्टर को लेकर सरकारी अधिकारियों के खराब रवैये, गुड्स एंड सर्विस टैक्स, डीजल की कीमतों में हुई बढ़ोतरी और परिवहन में बढ़े भ्रष्टाचार के खिलाफ 9 और 10 अक्टूबर को देशभर में चक्का जाम किया जा रहा है। AITWA ने भी हड़ताल में AIMTC का साथ दिया है, AITWA के अध्यक्ष प्रदीप सिंघल के मुताबिक सरकार न तो उन्हें गुड्स एंड सर्विस टैक्स के बारे में कोई जानकारी दे रही है और न ही किसी तरह की सफाई दी जा रही है, इस टैक्स को बहुत ज्यादा जटिल बना दिया गया है।

प्रदीप सिंघल ने कहा कि डीजल के भाव में रोजाना बदलाव से ट्रांसपोर्ट सेक्टर पर खराब असर पड़ा है, सरकार को चाहिए को डीजल के भाव रोजाना ने बदलकर हर तीन महीने में इनकी समीक्षा की जाए। AIMTC के वाइस प्रेसिडेंट हरीश सबरवाल ने बताया कि उनका संगठन हड़ताल से पहले सरकार से बात कर रहा था लेकिन बातचीत सफन नहीं हो पायी जिसके बाद हड़ताल पर जाने का फैसला लिया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि हड़ताल से ट्रक ऑपरेटर्स को करीब 2000 करोड़ रुपए का नुकसान होगा जिसे वे झेलने के लिए तैयार हैं।

Write a comment