1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. वायु प्रदूषण से भारत, चीन में हो सकती है समय पूर्व अधिक मृत्यु: रिपोर्ट

वायु प्रदूषण से भारत, चीन में हो सकती है समय पूर्व अधिक मृत्यु: रिपोर्ट

वायु प्रदूषण से 2060 तक 60 से 90 लाख लोगों की मौत हो सकती है। इस मामले में भारत और चीन में जोखिम अधिक है और यहा मरने वालों की संख्या अधिक हो सकती है।

Shubham Shankdhar Shubham Shankdhar
Updated on: June 10, 2016 8:05 IST
वायु प्रदूषण से 2060 तक भारत और चीन में हो सकती है 90 लाख लोगों की समय पूर्व मौत: रिपोर्ट- India TV Paisa
वायु प्रदूषण से 2060 तक भारत और चीन में हो सकती है 90 लाख लोगों की समय पूर्व मौत: रिपोर्ट

नई दिल्ली। वायु प्रदूषण से 2060 तक समय पूर्व 60 से 90 लाख लोगों की मौत हो सकती है। इस मामले में भारत और चीन में जोखिम अधिक है। इन देशों में वायु प्रदूषण से मरने वालों की संख्या सबसे अधिक हो सकती है। OECD एक रिपोर्ट में यह कहा गया है। आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन (OECD) की रिपोर्ट के अनुसार इस समस्या से बीमार पड़ने के दिन, चिकित्सा बिल तथा कृषि उत्पादन घटने के संदर्भ में वैश्विक जीडीपी का करीब एक फीसदी लागत आएगी जो करीब 2600 अरब डॉलर सालाना है।

वायु प्रदूषण का आर्थिक परिणाम (द इकोनामिक कॉन्सक्वेंसेस ऑफ एयर पाल्यूशन) शीर्षक से जारी रिपोर्ट के अनुसार 2010 में वायु प्रदूषण की वजह से समय से पहले 30 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई। रिपोर्ट के मुताबिक, वायु प्रदूषण से 2060 तक समय से पहले 60 से 90 लाख लोगों की मौत होने की आशंका है।

इसमें कहा गया है कि वायु प्रदूषण से मृत्यु दरों में सर्वाधिक वृद्धि भारत, चीन, कोरिया तथा उजबेकिस्तान जैसे मध्य एशियाई देशों में होने का अनुमान है। इन देशों में बढ़ती आबादी तथा शहरों में भीड़-भार का मतलब है कि वे बिजली संयंत्रों से होने उत्सर्जन तथा यातायात समस्या से सर्वाधिक प्रभावित होंगे।

यह भी पढ़ें- प्रदूषण कम करने का चीन ने निकाला नया तोड़, इस साल 2500 छोटी इकाइयां होंगी बंद

यह भी पढ़ें- First time in the Century: चीन से ज्‍यादा है भारत में प्रदूषण, दुनिया के 20 सबसे प्रदूषित शहरों में 13 भारत के

यह भी पढ़ें- Congestion Free: दिल्‍ली बनेगी हरी-भरी, सड़कों पर वाहनों की भीड़ कम करने के लिए सरकार खर्च करेगी 19,762 करोड़ रुपए

Write a comment