1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. पीएम मोदी के चार साल: तमिलनाडु में हैं सबसे ज्यादा फैक्ट्रियां, जानिए अन्य राज्यों का हाल

Facts on Indian States: तमिलनाडु में हैं सबसे ज्यादा फैक्ट्रियां, जानिए अन्य राज्यों का हाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल के दौरान देश में फैक्ट्रियों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की तरफ से जारी आंकड़ों से यह जानकारी निकलकर आई है। आंकड़ों के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी के शुरुआती 2 साल यानि 2014-15 और 2015-16 के दौरान देश में फैक्ट्रियों की संख्या में 8 हजार से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है

Manoj Kumar Manoj Kumar
Updated on: May 17, 2018 18:57 IST
Number of Factories in India- India TV Paisa

Number of Factories rose more than 8000 during first 2 years of Modi government says RBI Data

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल के दौरान देश में फैक्ट्रियों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की तरफ से जारी आंकड़ों से यह जानकारी निकलकर आई है। आंकड़ों के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी के शुरुआती 2 साल यानि 2014-15 और 2015-16 के दौरान देश में फैक्ट्रियों की संख्या में 8 हजार से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है। मई 2014 में प्रधानमंत्री ने कार्यभार संभाला था।

फैक्ट्रियों की संख्या में 8000 से ज्यादा की बढ़ोतरी

RBI के आंकड़ों के मुताबिक वित्तवर्ष 2013-14 के अंत में देश में कुल 2,24,576 फैक्ट्रियां थी जो वित्तवर्ष 2015-16 के अंत में बढ़कर 2,33,116 तक पहुंच गई हैं। इस दौरान गुजरात, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में फैक्ट्रियों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है जबकि उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और दिल्ली में फैक्ट्रियों की संख्या में गिरावट दर्ज की गई है।

इन राज्यों में सबसे ज्यादा बढ़ी फैक्ट्रियों की संख्या

आंकड़ों के मुताबिक 2013-14 के अंत में गुजरात में 24476 फैक्ट्रियां थी जो 2015-16 के अंत में बढ़कर 22876 तक पहुंच चुकी हैं, इस दौरान आंध्र प्रदेश में संख्या 15719 से  बढ़कर 16340, तेलंगाना में 14110 से बढ़कर 14874, कर्नाटक में 12507 से बढ़कर 1297, मध्य प्रदेश में 4047 से बढ़कर 4426, और राजस्थान में 8820 से बढ़कर 9049 तक पहुंच चुकी है।

सबसे ज्यादा फैक्ट्रियों वाले 10 राज्य

RBI के मुताबिक 2015-16 तक 37331 फैक्ट्रियों के साथ तमिलनाडू पहले स्थान पर है और 28210 फैक्ट्रियों के साथ महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर, गुजरात में 24476, आंध्र प्रदेश में 16340, तेलंगाना में 14874, उत्तर प्रदेश में 14463, कर्नाटक में 12973, पंजाब में 12521, राजस्थान में 9049 और पश्चिम बंगाल में 8859 फैक्ट्रियां दर्ज की गई हैं।   

Write a comment
arun-jaitley