1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 2014 से अबतक 6.4 करोड़ से ज्‍यादा वैश्विक रूपे कार्ड हुए जारी, 40 बैंकों द्वारा किया जाता है जारी

2014 से अबतक 6.4 करोड़ से ज्‍यादा वैश्विक रूपे कार्ड हुए जारी, 40 बैंकों द्वारा किया जाता है जारी

देश का रूपे कार्ड वैश्विक कार्ड जारी करता है। जब देश से बाहर इसका इस्तेमाल किया जाता है तो यह डिस्कवर नेटवर्क पर काम करता है, जबकि घरेलू स्तर पर यह रूपे कार्ड नेटवर्क पर ही काम करता है।

Edited by: India TV Paisa Desk [Published on:07 Mar 2019, 8:45 PM IST]
rupay card- India TV Paisa
Photo:RUPAY CARD

rupay card

मुंबई। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) ने 2014 से अब तक 6.4 करोड़ से अधिक वैश्विक रूपे कार्ड जारी किए हैं। निगम ने गुरुवार को यह जानकारी दी। निगम का कहना है कि वह इसकी बढ़ती अंतरराष्ट्रीय स्वीकार्यता पर ध्यान दे रही है। 

देश का रूपे कार्ड वैश्विक कार्ड जारी करता है। जब देश से बाहर इसका इस्तेमाल किया जाता है तो यह डिस्कवर नेटवर्क पर काम करता है, जबकि घरेलू स्तर पर यह रूपे कार्ड नेटवर्क पर ही काम करता है। 

रूपे कार्ड जारी करने वाली एनपीसीआई के मुख्य परिचालन अधिकारी प्रवीण राय ने एक बयान में कहा कि हमारे 6.4 करोड़ से अधिक वैश्विक कार्डधारकों के लिए हमारा मुख्य ध्यान लगातार बढ़ रही अंतरराष्ट्रीय स्वीकार्यता पर है। डिस्कवर के साथ साझेदारी के तहत हमारी वैश्विक स्वीकार्यता 190 देशों के 4.1 करोड़ से अधिक दुकानदारों तक हुई है। इसमें लगातार बढ़ोतरी हो रही है।  

रूपे के वैश्विक डेबिट और क्रेडिट कार्ड वर्तमान में 40 बैंक जारी करते हैं। इसका उपयोग करने वाले ग्राहक अमेरिका, सिंगापुर, श्रीलंका जैसे कई देशों में डिस्कवर ग्लोबल नेटवर्क पर नकदी निकालने या खरीदारी करने में कर सकते हैं। डिस्कवर ग्लोबल नेटवर्क में डिस्कवर नेटवर्क, डाइनर्स क्लब इंटरनेशनल, पल्स और अन्य संबद्ध नेटवर्क शामिल हैं। 

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Web Title: NPCI issues over 64M RuPay Global Cards | 2014 से अबतक 6.4 करोड़ से ज्‍यादा वैश्विक रूपे कार्ड हुए जारी, 40 बैंकों द्वारा किया जाता है जारी
Write a comment
vandemataram-india-tv
manohar-parrikar
ipl-2019