1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. भीषण गर्मी: मार्च महीने में मई जैसा मौसम, 5 राज्यों के 27 शहरों में पारा पहुंचा 40 के पार

भीषण गर्मी: मार्च महीने में मई जैसा मौसम, 5 राज्यों के 27 शहरों में पारा पहुंचा 40 के पार

भीषण गर्मी: मार्च के महीने में मई जैसी तपिश महसूस हो रही है। देश के करीब सभी हिस्सों में गर्म हवाएं चल रही हैं और पारा 40 डिग्री के पार पहुंच गया है।

Ankit Tyagi [Published on:30 Mar 2017, 1:45 PM IST]
भीषण गर्मी: मार्च महीने में मई जैसी तपिश, 5 राज्यों के 27 शहरों में पारा पहुंचा 40 के पार- IndiaTV Paisa
भीषण गर्मी: मार्च महीने में मई जैसी तपिश, 5 राज्यों के 27 शहरों में पारा पहुंचा 40 के पार

नई दिल्ली। इस साल मार्च के महीने में ही मई जैसी तपिश महसूस हो रही है। देश के करीब सभी हिस्सों में गर्म हवाएं चल रही हैं। मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और झारखंड के करीब 27 शहरों में पारा 40 के पार पहुंच गया है। महाराष्ट्र के अकोला में सबसे ज्यादा टेम्परेचर 44 डिग्री दर्ज किया गया। मौसम विभाग का कहना है कि उत्तर से आ रही सूखी और गर्म हवाओं की वजह से ऐसा हो रहा है।

यह भी पढ़े: इन खूबसूरत देशों में मनाने जाएं गर्मी की छुट्टियां, जेब पर भी नहीं पड़ेगा भारी

क्यों बढ़ी गर्मी

सीनियर मौसम वैज्ञानिक एसके डे का कहना है कि

दक्षिण पश्चिमी मध्य प्रदेश , गुजरात और राजस्थान के पास जमीन से 5.8 किमी ऊपर एक ऐसा सिस्टम बना है, जिससे तेज गर्म हवाएं फैल रही हैं। इसी वजह से टेम्परेचर बढ़ा है। अभी और बढ़ने के आसार हैं

रायगढ़ के भीरा में गर्मी ने नया रिकॉर्ड बनाया

मंगलवार को महाराष्ट्र के रायगढ़ के भीरा में गर्मी ने नया रिकॉर्ड बनाया है। 46.5 डिग्री के साथ यह देश में सबसे गर्म स्थान रहा। राजस्थान

के शहर जोधपुर, फलौदी,  बीकानेर, बाड़मेर, जैसलमेर में पार 40 डिग्री के पार पहुंच गया है।

यह भी पढ़े: इस बार भीषण गर्मी पड़ने का है अनुमान, लोगों की चिंता के बीच कंपनियों को AC बिक्री बढ़ने की है उम्‍मीद

इन राज्यों में इस बार ज्यादा झुलसाएगी गर्मी

पुणे मौसम विभाग के मुताबिक इस साल पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, वेस्ट बंगाल, ओडिशा और तेलंगाना में नॉर्मल से ज्यादा टेम्परेचर रह सकता है। महाराष्ट्र के मराठवाड़ा, सेंट्रल महाराष्ट्र-विदर्भ और कोंकण के कोस्टल एरिया में एवरेज से ज्यादा गर्मी पड़ सकती है।

सन 2016 में  115 साल का  टूटा था रिकॉर्ड

1901 के बाद 2016 सबसे ज्यादा गर्म साल था। उस दौरान राजस्थान के फलौदी में टेम्परेचर 51 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। पिछले साल देशभर में गर्मी से 1600 लोगों की मौत हुई थी। इनमें से 700 मौतें लू के कारण हुई थीं। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में सबसे अधिक 400 लोग मारे गए थे। वेदर डिपार्टमेंट के मुताबिक, 1901 के बाद जनवरी 2017 आठवां सबसे गर्म महीना रहा है।

Web Title: भीषण गर्मी: मार्च महीने में मई जैसा मौसम, पारा 40 के पार
Write a comment