1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 23 मई को NDA की नहीं बनी सरकार तो Nifty को लगेगा झटका, UBS सिक्‍योरिटीज का दावा 15% आएगी गिरावट

23 मई को NDA की नहीं बनी सरकार तो Nifty को लगेगा झटका, UBS सिक्‍योरिटीज का दावा 15% आएगी गिरावट

यूबीएस सिक्योरिटीज ने सर्वेक्षणों तथा उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और राजस्थान में अपने दौरों के आधार पर कहा कि इन चुनाव में किसी के पक्ष में लहर नहीं दिख रही है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: May 17, 2019 13:29 IST
Non-NDA govt may lead to 15% correction in Nifty, says UBS - India TV Paisa
Photo:NDA GOVT

Non-NDA govt may lead to 15% correction in Nifty, says UBS

मुंबई। स्विट्जरलैंड की ब्रोकरेज कपंनी यूबीएस सिक्‍योरिटीज का कहना है कि यदि केंद्र में भाजपा के नेतृत्‍व वाले राष्‍ट्रीय जनतांत्रि‍क गठबंधन (राजग) की सरकार सत्‍ता में वापस नहीं आती है तो नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज के इंडेक्‍स निफ्टी में 15 प्रतिशत की गिरावट आएगी।  

यूबीएस सिक्योरिटीज ने चुनाव सर्वेक्षणों तथा उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और राजस्थान में अपने दौरों के आधार पर कहा कि इन चुनाव में किसी के पक्ष में लहर नहीं दिख रही है। 2014 की तुलना में चुनावी गतिविधियां सुस्त थीं। रिपोर्ट में कहा गया है कि सत्ताधारी भाजपा को उत्तर प्रदेश में झटका लग सकता है, जबकि पश्चिम बंगाल में उसे लाभ हो सकता है। 

उल्लेखनीय है कि 2014 के आम चुनाव में भाजपा को उत्तर प्रदेश से 71 सीटें मिली थीं, जबकि पश्चिम बंगाल में उसे 42 में से केवल 2 ही सीटें मिली थीं। चुनाव परिणाम आने से एक हफ्ते पहले जारी की गई इस रिपोर्ट में संभावित परिस्थितियों और उसका बाजार पर प्रभाव के बारे में भी परिचर्चा की गई है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि यदि गैर राजग सरकार बनती है तो निफ्टी 10 से 15 प्रतिशत नीचे आएगा। वहीं राजग के 250 से कम सीटें जीतने पर निकट भविष्य में सरकार बनने तक उतार-चढ़ाव बना रहेगा। हालांकि, यदि राजग 250 से अधिक सीटें जीतता है तो निफ्टी पांच प्रतिशत चढ़कर अपने हालिया उच्चस्तर पर पहुंच सकता है। 

19 मई को अंतिम चरण का मतदान पूरा होने के बाद शुरू होने वाले एग्जिट पोल पर इस रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले तीन लोकसभा चुनावों के लिए एग्जिट पोल का अनुमान बिलकुल भी सटीक नहीं रहा है। 2004 में एग्जिट पोल में गलत तरीके से यह अनुमान लगाया गया था कि भाजपा के नेतृत्‍व वाले एनडीए गठबंधन की सरकार दोबारा बनेगी, जबकि 2009 में एग्जिट पोल में कांग्रेस नेतृत्‍व वाले यूपीएस गठबंधन के सीट बंटवारे को कमतर आंका गया था। रिपोर्ट में कहा गया है कि बाजार एग्जिट पोल के नतीजों को देखेगा और इसका कुछ उसर भी हो सकता है।

Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban