1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दालों का वायदा कारोबार फिर होगा शुरू, शुक्रवार से चने की लॉन्चिंग से होगी शुरुआत

दालों का वायदा कारोबार फिर होगा शुरू, शुक्रवार से चने की लॉन्चिंग से होगी शुरुआत

सूत्रों से मिल जानकारी के मुताबिक कमोडिटी एक्सचेंज NCDEX पर शुक्रवार से चने का वायदा कारोबार शुरू हो सकता है

Manoj Kumar [Updated:12 Jul 2017, 4:57 PM IST]
दालों का वायदा कारोबार फिर होगा शुरू, शुक्रवार से चने की लॉन्चिंग से होगी शुरुआत- India TV Paisa
दालों का वायदा कारोबार फिर होगा शुरू, शुक्रवार से चने की लॉन्चिंग से होगी शुरुआत

नई दिल्ली। दालों का वायदा कारोबार फिर से शुरू होने जा रहा है। इंडिया टीवी पैसा को सूत्रों से मिल जानकारी के मुताबिक कमोडिटी एक्सचेंज NCDEX पर शुक्रवार से चने का वायदा कारोबार शुरू हो सकता है। बुधवार देर रात या गुरुवार को एक्सचेंज की तरफ से वायदा शुरू करने को लेकर सर्कुलर जारी हो सकता है। करीब एक साल पहले NCDEX पर चने के वायदा कारोबार पर रोक लगा दी गई थी। एग्री कमोडिटीज के वायदा कारोबार के लिए NCDEX देश का सबसे बड़ा एक्सचेंज है।

लंबे समय से सभी दालों में सिर्फ चने का ही वायदा कारोबार होता रहा है जिसपर पिछले साल रोक लग गई थी। पिछले साल देश में चने की कीमतों में बेतहाशा तेजी आई थी जिस वजह से एहतिआत के तौर पर इसके वायदा कारोबार को रोक दिया गया था। चने के अलावा तुअर और उड़द का वायदा कारोबार भी होता था लेकिन साल 2007 में इन दोनो दालों की फ्यूचर ट्रेडिंग पर रोक लगा दी गई थी और उसके बाद कभी भी ट्रेडिंग दोबारा शुरू नहीं हुई।

पिछले साल जब चने के वायदा कारोबार पर रोक लगाई गई थी तो हाजिर बाजार में चने का भाव 8,000 रुपये प्रति क्विंटल के करीब था, रोक लगने के बावजूद इसकी कीमतों में तेजी बनी रही और हाजिर बाजार में भाव 12,000 रुपये प्रति क्विंटल की रिकॉर्ड ऊंचाई तक पहुंच गया। लेकिन उसके बाद कीमतों में गिरावट आना शुरू हुई और मौजूदा समय में चने का भाव 5,000-6000 रुपये प्रति क्विंटल के बीच चल रहा है।

इस साल देश में दालों का रिकॉर्ड उत्पादन होने का अनुमान है, केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने 224 लाख टन दलहन पैदा होने का अनुमान लगाया है। चने का उत्पादन भी 90 लाख टन से अधिक है। ज्यादा उत्पादन की वजह से देशभर में सभी दालों की कीमतों में गिरावट देखी जा रही है जिस वजह से दालों का वायदा कारोबार फिर से शुरू करने की मांग उठ रही है। लेकिन अभी तुअर और उड़द को छोड़ सिर्फ चने की फ्यूचर ट्रेडिंग ही शुरू होने की उम्मीद है।

Web Title: दालों का वायदा कारोबार फिर होगा शुरू
Write a comment