1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. म्यूचुअल फंड कंपनियों ने 2016 में 50 नई निवेश योजनाओं के लिए किए आवेदन

म्यूचुअल फंड कंपनियों ने 2016 में 50 नई निवेश योजनाओं के लिए किए आवेदन

खुदरा निवेशकों की मांग को देखते हुए म्यूचुअल फंड कंपनियों ने इस साल की शुरुआत से 50 नए फंड पेशकश के लिए बाजार नियामक सेबी के पास मसौदा दस्तावेज जमा किए हैं

Dharmender Chaudhary [Published on:26 Jun 2016, 8:08 PM IST]
म्यूचुअल फंड कंपनियों ने 2016 में 50 नई निवेश योजनाओं के लिए किए आवेदन, लोगों को मिलेगा अधिक विकल्प- IndiaTV Paisa
म्यूचुअल फंड कंपनियों ने 2016 में 50 नई निवेश योजनाओं के लिए किए आवेदन, लोगों को मिलेगा अधिक विकल्प

नई दिल्ली। खुदरा निवेशकों की मांग को देखते हुए म्यूचुअल फंड कंपनियों ने इस साल की शुरुआत से 50 नए फंड पेशकश (एनएफओ) के लिए बाजार नियामक सेबी के पास मसौदा दस्तावेज जमा किए हैं। म्यूचुअल फंड कंपनियों ने इक्विटी, बांड, सेवानिवृत्ति तथा निश्चित परिपक्वता योजना से संबद्ध उत्पादों के लिए आवेदन दिए हैं। इसके अलावा कंपनियों की विदेशी शेयर बाजारों में भी निवेश पर नजर है।

मोतीलाल ओसवाल ने शेयर, डेरिवेटिव्स तथा बांड में निवेश के लिए योजना (मोतीलाल ओसवाल एमओएसटी फोकस्ड फंड) शुरू करने को लेकर दस्तावेज जमा किया है। वहीं सुदंरम म्यूचुअल फंड ने दुनिया भर में विदेशी शेयर बाजारों में सूचीबद्ध शेयर तथा शेयर संबंधित उत्पादों में निवेश के लिये योजना (सुंदरम वर्ल्ड ब्रांड फंड) के लिए दस्तावेज जमा किए हैं। जबकि रिलायंस म्यूचुअल फंड ने भारतीय बाजर में कोरिया केंद्रित कोष शुरु करने के लिए सेबी से संपर्क साधा है।

दिलचस्प बात यह है कि कई म्यूचुअल फंड कंपनियों ने योजनाओं के लिए जो सेबी के पास जो आवेदन दिए हैं, उसमें ज्यादातर नाम हिंदी में हैं। इसका मकसद ग्रामीण क्षेत्र के निवेशकों को बेहतर तरीके से योजनाओं के उद्देश्य को समझाना है। उनमें से कुछ योजनाओं के नाम बाल विकास योजना, कर बचत योजना, बचत योजना, निवेश लक्ष्य आदि हैं।

यह भी पढ़ें- म्यूचुअल फंड कंपनियों को 2015-16 में डिस्ट्रिबुटर्स को दिए गए कमीशन का करना होगा खुलासा: AMFI

Web Title: म्यूचुअल फंड कंपनियों ने 50 नई निवेश योजनाओं के लिए किए आवेदन
Write a comment