1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. इस दिवाली ऑनलाइन शॉपिंग और ई-गिफ्ट्स की धूम, स्‍मार्टफोन का जमकर सहारा ले रहे हैं लोग

इस दिवाली ऑनलाइन शॉपिंग और ई-गिफ्ट्स की धूम, स्‍मार्टफोन का जमकर सहारा ले रहे हैं लोग

स्विफ्टकी ने एक अध्ययन में कहा कि त्योहारी मौसम में उपहार खरीदने, पैसे भेजने और दिवाली की खरीदारी के लिए ज्‍यादातर लोग स्‍मार्टफोन का सहारा ले रहे हैं।

Manish Mishra Manish Mishra
Published on: October 17, 2017 9:48 IST
इस दिवाली ऑनलाइन शॉपिंग और ई-गिफ्ट्स की धूम, स्‍मार्टफोन का जमकर सहारा ले रहे हैं लोग- India TV Paisa
इस दिवाली ऑनलाइन शॉपिंग और ई-गिफ्ट्स की धूम, स्‍मार्टफोन का जमकर सहारा ले रहे हैं लोग

नई दिल्ली शॉपिंग और उपहार खरीदने के लिए स्मार्टफोन का इस्तेमाल करने वाले भारतीय की संख्या बढ़ रही है। माइक्रोसॉफ्ट की सहयोगी स्विफ्टकी ने एक अध्ययन में कहा कि इस त्योहारी मौसम में उपहार खरीदने, पैसे भेजने और दिवाली की खरीदारी के लिए अपने स्मार्टफोन का रुख करने वाले भारतीयों की संख्या में वृद्धि हो रही है। अध्ययन के मुताबिक सर्वेक्षण में शामिल दो-तिहाई से ज्यादा करीब 70 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वे इस वर्ष अपने मोबाइल फोन के माध्यम से दिवाली के लिए अधिक या पूरी खरीदारी करेंगे। इसके साथ ही 36 प्रतिशत लोगों ने कहा कि त्योहार पर धन भेजने के लिए स्मार्टफोन का इस्तेमाल करेंगे। वहीं, 30 प्रतिशत ने कहा कि वह वर्चुअल उपहार साझा करेंगे।

यह भी पढ़ें : दिवाली के बाद फिर से शुरू हो सकती है JioPhone की बुकिंग, शुरू हो गई है 60 लाख फोन की डिलिवरी

अध्ययन में दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, जयपुर और बेंगलुरु में 1,500 से अधिक उारदाताओं को शामिल किया गया था। स्विफ्टकी इंडिया की टेक इवेंजलिस्ट आरती समानी ने कहा कि18-44 साल के लोग तकनीक का इस्तेमाल करके दोस्तों और परिवारों के साथ नए तरीकों से दिवाली मनाएंगे। यह देखना आश्चर्यजनक है कि इस दिवाली लोग फूटप्रिन्ट्स और सांस्कृतिक जैसी इमोजी का भी उपयोग करेंगे।

यह भी पढ़ें : GST के 28 फीसदी के दायरे में आने वाली वस्‍तुओं और सेवाओं की घट सकती है संख्‍या, राजस्‍व सचिव ने दिए संकेत

अध्ययन में पाया गया है कि 84 प्रतिशत लोगों को लगता है कि स्मार्टफोन ने त्योहार मनाने के तरीकों में सुधार लाने में उनकी मदद की है। वहीं, 10 में से 9 लोगों का कहना है कि इमोजी ने त्योहार की भावनाओं को व्यक्त करने में उनकी मदद की।

Write a comment